न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

Hazaribagh:  बिजली और पानी की हालत में सुधार होने तक इन विभाग के कर्मियों को नहीं मिलेगा वेतन

विद्युत, नगर निगम व पीएचईडी के कर्मियों व पदाधिकारियों की वेतन निकासी पर रोक

1,565

Hazaribagh:  हज़ारीबाग के उपायुक्त रविशंकर शुक्ला ने कहा कि जन सरोकार से जुड़े मुद्दे अहम होते हैं. इन मुद्दों के साथ जनता का सीधा संबंध होता है. विद्युत, पेयजल आपूर्ति आदि को लेकर आमजन को हो रही परेशानी को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता.

mi banner add

पूर्व में ही विद्युत व पेयजल आपूर्ति को निर्बाध व सुचारू करने को लेकर समय सीमा निर्धारित की गयी थी. पर आदेशों पर अमल नहीं हुआ. उन्होंने कड़ा रुख अख्तियार करते हुए अपेक्षित सुधार होने तक पीएचईडी, विद्युत व नगर निगम के पदाधिकारियों व कर्मियों की वेतन निकासी पर रोक लगाने का आदेश दिया.

वे मंगलवार को कार्यालय में विद्युत, नगर निगम व पीएचईडी की समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रहे थे.

इसे भी पढ़ेंः बीजेपी ऑफिस में भाजयुमो अध्यक्ष ने सरेआम सिपाही को पीटा,  मामला दर्ज तो हुआ लेकिन गिरफ्तारी नहीं, अब मन रही बर्थडे पार्टी

लापवाह अधिकारियों को लगायी फटकार

मौके पर विद्युत, नगर निगम व पीएचईडी विभाग की योजनाओं की समीक्षा की गयी. इस दौरान उपायुक्त ने समयबद्ध तरीके से योजनाओं का क्रियान्वयन नहीं होने पर संबंधित विभाग के अधिकारियों को फटकार लगायी.

उन्होंने विभागीय अधिकारियों को आगामी सात दिनों के अंदर कार्यशैली में सुधार करने व योजनाओं के क्रियान्वयन में अपेक्षित परिणाम को लेकर चेतावनी दी. उन्होंने कहा कि संबंधित विभागों की आगामी समीक्षा बैठक 21 जून को शाम 4 बजे से होगी. बैठक में योजनाओं की अद्यतन प्रगति की समीक्षा की जायेगी.

समीक्षा बैठक में कार्यपालक अभियंता विद्युत ने शहरी क्षेत्र में चल रहे कार्यों को 24 जून तक पूरा होने की बात कही. उपायुक्त ने उन्हें 20 जून तक कार्य संपन्न करने का निदेश दिया. बैठक में उपायुक्त ने क्षेत्रवार जेई, एई, लाईन मैन आदि की प्रतिनियुक्ति की सूची जारी करने का निदेश दिया.  ताकि आमजन अपनी परेशानी को लेकर संबंधित कर्मी से सम्पर्क कर सके.

इसे भी पढ़ेंः गुमला : कार्तिक उरांव काॅलेज में बिना एडमिट कार्ड 42 छात्रों को दिला दी गयी परीक्षा, अब नहीं मिल रहा रिजल्ट

सोशल मीडिया के माध्यम से आने वाली शिकायतों पर फोकस

उपायुक्त ने सोशल मीडिया के माध्यम से आने वाली शिकायतों के निष्पादन को समय पर सुलझाने का निर्देश दिया. साथ ही काली बाड़ी, डेली मार्केंट क्षेत्र आदि शहरी क्षेत्र में विशेष रूप से सफाई कार्य संचालित करने का निदेश दिया. इसके अलावे यूनिपोल से संबंधित कार्यों का निष्पादन नगर निगम द्वारा करने तथा प्रचार-सामग्रियों का राजस्व लेने का निदेश दिया.

वहीं मीठा तालाब, बुढ़वा महादेव तालाब आदि के सौंदर्यीकरण कार्य में लगी एजेंसी पर कार्रवाई का निदेश दिया. मौके पर पेयजल एवं स्वच्छता प्रमण्डल के कार्यपालक अभियंता को स्वच्छ भारत मिशन का कार्य 24 जून तक पूर्ण करने का सख्त निर्देश दिया गया.

इसे भी पढ़ेंः दुमका : जल संकट से जूझ रहे सुन्दरपुर के ग्रामीण पलायन करने को सोच रहे हैं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: