JamshedpurJharkhand

Jamshedpur Strike: बीमा कंपनियों के कर्मचारी भी रहे हड़ताल पर, कहा-बीमा कंपनियों का निजीकरण करना चाहती है सरकार

Jamshedpur: ऑल इंडिया इंश्योरेंस इंप्लाइज एसोसिएशन ने दो दिनी हड़ताल का समर्थन किया. एसोसिएशन का कहना है कि इस हड़ताल में बिहार-झारखंड सहित समस्त देश में भर में स्थित ओरिएंटल इंश्योरेंस, नेशनल इंश्योरेंस, यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस और न्यू इंडिया एश्योरेंस के सभी कार्यालय बंद रहे और इन कार्यालयों में पदस्थापित समस्त अधिकारीयों एवं कर्मचारीयों ने भाग लिया.
क्या है इनकी मांग
हड़ताली कर्मचारियों ने भारत सरकार के जनरल इंश्योरेंस बिजनेस नेशनलाइजेशन एक्ट 2021 का विरोध कर रहे हैं. एसोसिएशन का कहना है कि इस एक्ट के अस्तित्व में आने के बाद सार्वजनिक साधारण बीमा कंपनियों के निजीकरण का रास्ता खुल गया है. भारत सरकार से हम मांग कर रहे हैं कि सार्वजनिक साधारण बीमा कंपनियों के निजीकरण के मार्ग को बंद करने के लिए जिबना एक्ट को वापस लिया जाय और सार्वजनिक साधारण बीमा कंपनियों को मजबूती प्रदान करने के लिए इन चारों कंपनियों को मर्ज किया जाए. 2018 में स्वर्गीय अरुण जेटली ने यह प्रस्ताव लाया था कि ओरिएंटल, नेशनल और यूनाइटेड इंडिया को मर्ज कर एक कंपनी का निर्माण किया जाएगा. हड़ताली कर्मियों ने यह भी मांग की कि अगस्त 2017 से सार्वजनिक साधारण बीमा कंपनियों का वेतन पुनरीक्षण लंबित है. इस पर जल्द से जल्द वार्ता कर लागू किया जाए.

हड़ताल के दौरान नारेबाजी

हड़ताल के दौरान जमशेदपुर स्थित ओरिएंटल, नेशनल, यूनाइटेड इंडिया और न्यू इंडिया के मंडल कार्यालयों के मंडल प्रबंधक सहित सभी कर्मचारियों ने अपनी मांगों को पूरा करने के लिए जमकर नारेबाजी की. मौके पर न्यू इंडिया एश्योरेन्स मण्डल कार्यालय के मंडल प्रबंधक सोनल टेटे, शाखा प्रबंधक पंकज कुमार, सागर, अमितेश कुमार, गौरव सिंह, सूरज कुमार, अमर लाल, जे एस चौबे, संजू प्रसाद, गौरव चौधरी, अमित कुमार, राहुल उपाध्याय, सुनीता , ललिता, सहित सैकड़ों सदस्य शामिल हुए.

ये भी पढ़ें-Tata Steel की खास पहल, जमशेदपुर के ग्रामीण क्षेत्र की 565 सहियाओं एवं एएनएम को मि‍ला ई-स्कूटर

Related Articles

Back to top button