न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बोकारो के 19 विस्थापित गांंवों के संपूर्ण विकास पर दें जोर : इस्पात मंत्री

208

Dhanbad : केंद्रीय इस्पात मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह ने बोकारो के 19 विस्थापित गावों के संपूर्ण विकास पर जोर देने के लिए सेल अध्यक्ष को निर्देश दिया है. यह निर्देश धनबाद के सांसद पशुपतिनाथ सिंह के विशेष आग्रह पर इस्पात मंत्री की बुलायी बैठक में दिया गया. बैठक में कई निर्णय लिये गये. जिसमें स्वरोजगार के लिए विस्थापितों के जीविकोपार्जन में भूखंड आवंटन में 50 प्रतिशत आरक्षण देने, बोकारो प्लांट के अंदर आउटसोर्सिंग के कार्यों में संतोषजनक ठीक कार्यों को विस्थापितों को देने, विस्थापितों के लिए आरक्षित पांच लाख रुपये तक के कॉन्ट्रैक्ट की रकम को बढ़ाकर 25 लाख करने की सहमति बनी. बैठक में बोकारो इस्पात संयंत्र के अंतर्गत आनेवाले अनुषांगिक इकाइयों को प्रचुर मात्रा में क्रय आदेश देने का और उसे तकनीकी रूप से आधुनिकीकृत करते हुए भरपूर कार्यादेश देने की बात कही गयी. बढ़े कॉन्ट्रैक्ट में भी विस्थापितों के लिए को-ऑपरेटिव के आधार ट्रायल बेसिस पर वर्क ऑर्डर देकर उन्हें कौशल विकास के माध्यम से दक्ष बनाकर उन्हें कॉन्ट्रैक्ट दिया जायेगा.

25 एकड़ भूमि राज्य सरकार द्वारा मेडिकल कॉलेज के लिए और 25 एकड़ भूमि अंतर्राष्ट्रीय खेल स्टेडियम के लिए प्रदान करने की सहमति बनी. अप्रेंटिस कर रहे 1500 विस्थापितों के साथ ऐसे ही अप्रेंटिस की संख्या बढ़ाकर नियोजन की पहल करने, चतुर्थ श्रेणी एस वन, जो विस्थापित साक्षर/ मैट्रिक अनियोजित परिवार से हैं, उन सभी को बहाल करने का आश्वसन मंत्री ने दिया है.

सेल कर्मचारियों के वेज रिवीजन पर भी जल्द ही निर्णय लिया जायेगा. उक्त बातों की सहमति गुरुवार को नयी दिल्ली में भारत सरकार के इस्पात मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह द्वारा बुलायी गयी बैठक में हुई. बैठक में भारत सरकार के इस्पात राज्य मंत्री विष्णु देव, धनबाद के सांसद पशुपतिनाथ सिंह, सचिव इस्पात विनय कुमार, भारतीय इस्पात प्राधिकरण के अध्यक्ष अनिल चौधरी, निदेशक निजी इस्पात प्राधिकरण लिमिटेड अतुल श्रीवास्तव, बोकारो स्टील प्लांट के सीईओ पीके सिंह सहित बोकारो के भाजपा नेता रोहित लाल सिंह और बिंदा सिंह उपस्थित थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: