World

एलन मस्क को तेलंगाना में टेस्ला कार फैक्ट्री लगाने का मिला ऑफर

Hyderabad: अमेरिका की इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी टेस्ला को भारतीय बाजार में एंट्री से पहले कई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है. एक प्रणय नाम के एक ट्विटर यूजर के भारत में टेस्ला के लांचिग से संबधित सवाल पूछा था. उसी पर रिप्लाई करते हुए एलन मस्क कहते हैं कि “अभी भी सरकार के साथ बहुत सारी चुनौतियों पर काम कर रही है. इसी बीच तेलंगाना के उद्योग और वाणिज्य मंत्री केटी रामा राव ने कहा कि उनका राज्य टेस्ला द्वारा अपना कारखाना बनाने के लिए ईवी निर्माता के साथ ‘भागीदारी से खुश’ होगा. उन्होंने एलन मस्क के ट्वीट पर रिप्लाई करते हुए यह ऑफर दिया.

केटी रामा राव ने लिखा, “हाये एलन, मैं भारत में तेलंगाना राज्य का उद्योग और वाणिज्य मंत्री हूं. भारत/तेलंगाना में कारोबार (Shop) स्थापित करने की चुनौतियों को लेकर काम करने में टेस्ला के साथ साझेदारी करने पर खुशी होगी. हमारा राज्य सस्टेनेबिलिटी इनिशिएटिव्स में एक चैंपियन है और भारत में शीर्ष पायदान का बिजनेस डेस्टिनेशन है.”

गौरतलब है कि हाल ही में टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने ट्वीट करके पुष्टि की था कि कार निर्माता “अभी भी सरकार के साथ बहुत सारी चुनौतियों पर काम कर रही है.” उनकी इस ट्वीट के जवाब में ही केटी रामा राव ने ट्वीट किया और उन्हें अपनी कार के लिए फैक्टी खोलने का ऑफर दिया.

इसे भी पढ़ें : 26 जनवरी की झांकी के लिए अनुभवी संस्थान की मदद लेगा रांची जिला प्रशासन, निकाला टेंडर

आपको बता दें कि टेस्ला आयात शुल्क में कटौती की मांग कर रही है.  वहीं, सरकार की ओर से आयात शुल्क में राहत देने पर कोई फैसला नहीं लिया गया है. दरअसल टेस्ला भारत में लॉन्च के लिए अपनी कारों पर आयात शुल्क कम कराने की कोशिश में है क्योंकि उच्च आयात शुल्क का मतलब उच्च कीमतें होगी और बदले में बिक्री की उम्मीद कम होगी. ऐसा भी माना जा रहा है कि टेस्ला पहले उत्पादों को आयात करके बेचना चाहती है और फिर भारत में निर्माण शुरू करना चाहती है.

वहीं भारत सरकार चाहती है कि टेस्ला शुरू से ही भारत में कार निर्माण करे. फिर कर छूट के बारे में सोचे. एलन मस्क ने पहले कहा था कि भारत में कारों के लिए आयात शुल्क सबसे अधिक हैं और चाहते हैं कि पहले यह कम हो, जिससे टेस्ला इंडिया लॉन्च की योजनाएं शुरू की जाए.

Advt

Related Articles

Back to top button