JharkhandLohardaga

लातेहार में हाथियों ने दो युवकों को पटक-पटक कर मार डाला, आक्रोशित लोगों ने किया सड़क जाम

Latehar: बालूमाथ थाना क्षेत्र में रविवार की रात जंगली हाथियों के एक झुंड ने दो युवकों को पटक कर मार डाला. उनकी पहचान हेबना गांव निवासी वीरेंद्र गंझु (30) और मारंग लोया निवासी लखन उरांव (45) के रूप में की गई. घटना के बाद स्थानीय लोग उग्र हो गए और वन विभाग के खिलाफ और मुआवजा की मांग को लेकर बालूमाथ-खलारी पथ को मारंग लोया पुलिस पिकेट के पास जाम कर दिया. सड़क जाम करीब 12 घंटे तक रखा गया. मृतक के परिजनों ने 25 लाख रुपए, एक आश्रित को सरकारी नौकरी और हाथियों को भगाने की मांग पर अड़े थे.

इसे भी पढ़ें : नमाज कक्ष के मसले पर हंगामे को सीएम ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण, बोले- विपक्ष के पास मुद्दा ही नहीं

advt

घटना की सूचना मिलने पर पुलिस व वन विभाग के पदाधिकारी मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाया. ग्रामीणों से बातचीत की गयी. 4 लाख मुआवजा देने की घोषणा की गयी. इसमें से 40 हजार रुपए तत्काल देने और बाकी रुपए तीन दिनों के अंदर देने के आश्वासन के बाद लोगों ने सड़क जाम हटाया. 12 घंटे रोड जाम से सड़क की दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई थी. झुंड में 22 हाथी शामिल हैं.

क्या है घटनाक्रम

हाथियों ने सबसे पहले वीरेंद्र को निशाना बनाया. वीरेंद्र अपने मवेशियों को चारा देकर वापस घर आ रहा था. इसी बीच हाथियों ने उसे अपनी चपेट में ले लिया और पटक कर मार डाला. इसके 15 मिनट बाद दवा खरीद कर अपने घर लौट रहे लखन उरांव को जंगली हाथियों के झुंड ने घेर कर घायल कर दिया. परिजनों द्वारा उसे घायलावस्था में मुरपा के एक निजी चिकित्सक के यहां ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई.

हाथियों को दूर भगाने के लिए आएगी टीम

घटना की जानकारी मिलने के बाद वन विभाग के पदाधिकारी गांव पहुंचे और हालात का जायजा लिया. अधिकारियों ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया है कि हाथियों को गांव से दूर भगाने के लिए वन विभाग बाहर से टीम बुला रहा है. स्थानीय लोगों का कहना है कि पूरे जिले में हाथियों का आबादी वाले क्षेत्र में चहलकदमी बढ़ी है. इससे इंसान और हाथी में टकराव बढ़ा है. चंदवा, बालूमाथ, बारियातु, हेरहंज, बरवाडीह, गारू, महुआडांड़ आदि प्रखंड में हाथी आए दिन लोगों की जान ले रहे हैं.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: