Giridih

विद्युतीकरण का गिरिडीह-मधुपुर रेलखंड को मिलेगा फायदा, बढ़ेगी ट्रैन की स्पीड

सांसद-विधायक के साथ एडीआरएम ने किया बैठक

Giridih : गिरिडीह रेलवे स्टेशन के समीप झरियागादी में प्रस्तावित रेलवे ओवर ब्रिज निर्माण का स्थल निरीक्षण करने शनिवार को गिरिडीह सांसद चन्द्रप्रकाश चौधरी के साथ, सदर विधायक सुदिव्य कुमार सोनू और एडीआरएम मुकेश मीणा पहुंचे. आसनसोल डिवीजन के अपर मंडल रेलवे प्रबंधक मीणा के साथ डिवीजनल अभियंता शांतनु चक्रवर्ती और सीनियर डीओएम भी पहुंचे थे. स्टेशन के प्रतीक्षालय में ही सांसद-विधायक के साथ रेलवे के अधिकारियों ने बैठक की. बंद कमरे में करीब पौने घंटे तक चली बैठक के दौरान कई फैसले लिए गए.

 

झरियागादी में ओवरब्रिज व सड़क का निर्माण साथ-साथ कराने का फैसला लिया गया. इसके साथ ही नये सिरे से प्रस्ताव तैयार करने का भी फैसला लिया गया. पहले बारह करोड़ की लागत से ओवरब्रिज निर्माण के लिए एस्टीमेट तैयार की गयी थी, माना जा रहा है कि अब लागत राशि में वृद्धि होगी.

advt

 

बैठक में रेलवे स्टेशन के समीप रेलवे के अंटा बंगला मैदान में खाली पड़े 2.4 एकड़ के प्लाट पर शहर के दुकानदारों के लिए वैडिंग जोन के निर्माण पर भी चर्चा हुई. सांसद-विधायक ने बैठक के दौरान खाली पड़े प्लॉट को नगर निगम को लीज पर देने का सुझाव देते हुए वैडिंग जोन के निर्माण का प्रस्ताव दिया. एडीआरएम ने कहा कि प्रस्ताव आने के बाद उसे बोर्ड के पास भेजा जायेगा.

adv

 

एडीआरएम ने कहा कि अब जल्द ही गिरिडीह-मधुपुर रेलखंड पर पहले की तरह ट्रैन को चलाया जाएगा. जितने रांउड लगते थे, उतने फेरे शुरू किये जायेंगे. एडीआरएम ने कहा कि विद्युतीकरण का फायदा अब इस रेलखंड को मिलेगा. जल्द ही मधुपुर-गिरिडीह रेलखंड पर ट्रैनों की स्पीड बढ़ायी जायेगी. बैठक में जिला झामुमो अध्यक्ष संजय सिंह समेत कई प्रमुख लोग मौजूद थे.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: