न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चुनाव आयोग लोस चुनाव के लिए तैयार, समय पर हर राज्य में ईवीएम, वीवीपैट भेजने की कवायद शुरू

आम चुनाव के लिए चुनाव आयोग को लगभग 22.3 लाख बैलट यूनिट, 16.3 लाख कंट्रोल यूनिट और लगभग 17.3 लाख वीवीपैट मशीन चाहिए.

105

NewDelhi : चुनाव आयोग 2019 आम चुनाव के लिए कमर कस चुका है. आयोग द्वारा इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) और वोटर वेरीफाएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपैट) की जांच कर हर राज्य में समय पर भेजने की कवायद शुरू की जा चुकी है. आयोग इन मशीनों को आम चुनाव से पूर्व सभी राज्यों में सही तरीके से पहुंचाने की जुगत में है. मशीनों को सुचारू रूप से चलाने के लिए जिला अधिकारियों को पहले स्तर की चेकिंग और ट्रेनिंग देने की तैयारी की जा चुकी है. बता दें कि चुनाव आयोग मशीन बनाने वाली कंपनियों के मुख्य प्रबंध निदेशकों के संपर्क में है. क्योंकि  आम चुनाव के लिए चुनाव आयोग को लगभग 22.3 लाख बैलट यूनिट, 16.3 लाख कंट्रोल यूनिट और लगभग 17.3 लाख वीवीपैट मशीन चाहिए.

इसे भी पढ़ें : मिजोरम-मध्‍य प्रदेश में 28 नवंबर और राजस्थान में 7 दिसंबर को वोटिंग

राजस्थान में वीवीपैट और ईवीएम एम.3  के जरिए वोटिंग कराई जायेगी

palamu_12

पिछले माह जयपुर में मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने कहा था कि राजस्थान विधानसभा चुनाव में पहली बार सभी 200 विधानसभा क्षेत्रों में वीवीपैट और ईवीएम एम.3  के जरिए वोटिंग कराई जायेगी. कहा था कि राज्य के 51,796 पोलिंग बूथों पर ईवीएम के साथ वीवीपीएटी का इस्तेमाल किया जायेगा. जान लें कि 2017 में यूपी विधानसभा चुनाव के नतीजे एकतरफा भाजपा  के पक्ष में चले जाने के बाद से विपक्षी दल  ईवीएम की विश्वसनीयता को लेकर सवाल उठा रहे हैं.  इस संबंध में चुनाव आयोग से भी शिकायत की जा चुकी हैं.  हालांकि, चुनाव आयोग हमेशा ईवीएम की विश्वसनीयता पर आवाज उठाने वाले दलों को की बात नकारता रहा है. अब आयोग ने राजस्थान चुनाव में हर विधानसभा में ईवीएम के साथ वीवीपैट के इस्तेमाल का निर्णय लिया है. साथ ही आयोग ने कहा है कि राज्य के विधानसभा चुनावों मे पहली बार एक्सेसेबिलिटी पर्यवेक्षक   नियुक्त किया जायेगा.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: