Khas-KhabarRanchiTODAY'S NW TOP NEWSTop Story

चुनाव आयोग की अनदेखीः छह साल से जमे हैं जिले में योजना पदाधिकारी, चुनाव कार्य में होते हैं शामिल

Akshay Kumar Jha

Ranchi: चुनाव आयोग की तरफ से ऐसे हर अधिकारियों का तबादला करने का निर्देश दिया गया है, जो पिछले तीन साल से एक ही जगह जमे हैं. शर्त यह है कि वो चुनाव कार्य में शामिल होने चाहिए. लिहाजा बड़े पैमाने पर राज्य भर में तबदाले का दौर शुरू है. लेकिन योजना विभाग के अधिकारियों की मौज है. पिछले करीब छह सालों से वो एक ही जिले में जमे हैं, उन्हें हिलाने वाला कोई नहीं. उनका तबादला ना करने के पीछे दलील यह दी जाती है कि वो योजना संबंधी काम में अपनी भूमिका निभाते हैं. चुनाव से उनका कोई संबंध नहीं है.

लेकिन सच यह है कि जिले में छह साल से जमे अधिकारियों के पास किसी ना किसी कोषांग का प्रभार होता है. वो सीधे तौर पर चुनाव के कार्यों से जुड़ते हैं. क्योंकि जिले में अधिकारियों का टोटा है और इस कमी को दूर करने के लिए योजना विभाग के अधिकारियों को चुनाव कार्य में शामिल किया जाता है. ऐसा एक भी योजना पदाधिकारी नहीं है, जिसने पिछले लोकसभा या विधानसभा चुनाव में अपनी भूमिका ना निभायी हो. उदाहरण के तौर पर बोकारो जिला योजना पदाधिकारी प्रियव्रत नारायण सिंह को लिया जाए तो उनके पास योजना विभाग के अलावा सामग्री कोषांग का प्रभार है. जो सीधा चुनाव कार्यों से जुड़ा है.

ram janam hospital
Catalyst IAS

19 योजना पदाधिकारी छह साल से एक ही जिला में जमे

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

झारखंड के 24 जिलों के लिए राज्य भर में 14 ही योजना पदाधिकारी हैं. बाकी 10 जिलों में झारखंड प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों को जिला योजना पदाधिकारी का प्रभार देकर काम चलाया जा रहा है. इन 24 में चार को छोड़ दें तो बाकी सभी 20 जिला योजना अधिकारी करीब छह साल से एक ही जिले में जमे हैं.

जानिए कौन-किस जिले में कितने सालों से जमे हैं-

लातेहार निर्मल कुमार झा पांच साल आठ महीने से
सिमडेगा गनौरी मोची पांच साल छह महीना
धनबाद चंद्र भूषण तिवारी पांच साल नौ महीना
साहेबगंज रामनिवास प्रसाद सिंह पांच साल नौ महीना
पाकुड़ रामानुज कुमार सिंह पांच साल सात महीना
देवघर राजीव रंजन सिन्हा पांच साल
कोडरमा शाहिद अहमद पांच साल नौ महीना
हजारीबाग शाहिद अहमद एक साल (कोडरमा के भी जिला योजना पदाधिकारी हैं)
लोहरदगा महेश भगत पांच साल 10 महीना

 

खूंटी विनय कुमार पांच साल नौ महीना

 

पूर्वी सिंहभूम अजस कुमार एक साल सात महीना
बोकारो प्रियव्रत नारायण सिंह पांच साल नौ महीना
गिरिडीह देवेश कुमार गौतम पांच साल सात महीना
दुमका अरुण कुमार द्विवेदी एक साल तीन महीना

 

झारखंड प्रशासनिक सेवा के पदाधिकारी जो योजना पदाधिकारी के प्रभार में हैं

सरायकेला-खरसांवा सुरेश राय 2013 से
जामताड़ा कृष्णनंदन मिश्र 2013 से
   पलामू अरविंद कुमार 2013 से
   चतरा सोहेल आलम 2014 से
   देवघर परमेश्वर मरांडी 2018 से
    रांची माधव शरण सिंह 2014 से
    गुमला अरुण कुमार सिंह 2013 से

कई जिलों से जानकारी आयी है, चर्चा हो रही हैः मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी

न्यूज विंग से बात करते हुए मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एल ख्यांग्ते ने कहा कि हर विभाग की समीक्षा हो रही है. कई जिलों से जिला योजना पदाधिकारी की भी लिस्ट आयी गयी है. आपके पासे इस संबंध में जो जानकारी है, वो मुझे दें. चुनाव आयोग की तरफ से होने वाले प्रेस वार्ता में चर्चा के बाद आगे की जानकारी दी जाएगी.

इसे भी पढ़ेंः आपदा प्रबंधन विभाग से 3897 ट्यूबवेल के लिए मिले 24.06 करोड़

Related Articles

Back to top button