lok sabha election 2019

चुनाव आयोग ने नमो टीवी पर भी रोक लगायी

New Delhi: पिछले कुछ दिनों से टीवी पर आ रहे नमो टीवी की इन दिनों काफी जोर-शोर से चर्चा हो रही थी. विपक्षी दलों ने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की थी. चुनाव आयोग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बनी बायोपिक की रिली के साथ ही नमो टीवी पर चुनाव होने तक रोक लगा दिया है. आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि बायोपिक पर लगाया बैन का आदेश नमो टीवी पर भी लागू होता है. चुनाव के दौरान नमो टीवी को प्रसारित नहीं किया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें – हज़ारीबाग लोकसभा सीट से जयंत सिन्हा ने किया नामांकन, सीएम रघुवर दास व केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु रहे उपस्थित

समान अवसर उपलब्ध कराने के सिद्धांत से मेल नहीं खाता

अधिकारी ने आदेश का हवाला देते हुए कहा कि किसी भी प्रकार की प्रमाणित सामग्री से संबंधित कोई भी पोस्टर या प्रचार सामग्री, जो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से किसी उम्मीदवार की चुनावी संभावना को बढ़ाती है, वह आदर्श आचार संहिता के लागू रहने वाले क्षेत्र में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में प्रदर्शित नहीं की जाएगी. आयोग ने कहा कि ऐसी किसी भी सामग्री को नहीं दिखाया जा सकता, जो चुनाव में सभी दावेदारों को समान अवसर उपलब्ध कराने के सिद्धांत से मेल नहीं खाती हो.

इसे भी पढ़ें – मोदी  सरकार देश की जरूरत,  पंडित जसराज, उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान, शंकर महादेवन सहित 900 शख्सियतों ने यह कहा

कई फिल्मों को लेकर मिली थी शिकायतें

आयोग ने अपने आदेश में कहा कि किसी भी राजनीतिक इकाई या उससे जुड़े किसी भी व्यक्ति पर आधारित जीवनी या जीवनी के रूप में उसका कोई भी महिमामंडन, जो चुनाव के दौरान सभी दावेदारों को समान अवसर उपलब्ध कराने के सिद्धांत से मेल न खाता हो, वह आदर्श चुनाव आचार संहिता के लागू रहने के दौरान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में प्रदर्शित नहीं की जानी चाहिए. चुनाव आयोग ने कहा कि उसके पास ‘एनटीआर लक्ष्मी’, ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ और ‘उदयामा सिंहम’ सहित कुछ फिल्मों को लेकर शिकायतें आई हैं, जिनमें एक उम्मीदवार या एक राजनीतिक पार्टी की चुनावी संभावना को रचनात्मक स्वतंत्रता के नाम पर कम या उसे बढ़ा-चढ़ा कर दिखाया गया है.

इसे भी पढ़ें – मुरी कॉस्टिक पौंड हादसाः हिंडाल्को इंडस्ट्रीज ने बंद किया प्लांट से उत्पादन

Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close