न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सोशल मीडिया पर निर्वाचन आयोग और राज्य निर्वाचन पदाधिकारियों ने शुरू किया जागरुकता अभियान

सभी जिलों के जिला निर्वाची पदाधिकारी भी इसमें हुए शामिल

33

Ranchi : सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और गूगल पर निर्वाचन आयोग ने मतदाताओं को जागरुक करने के लिए अभियान शुरू कर दिया है. इसमें मतदाता पहचान पत्र बनाने से लेकर सबसे बड़ा त्यौहार यानी लोकसभा चुनाव 2019 में शिरकत करने की जानकारी दी जा रही है. निर्वाचन आयोग ने इसको लेकर इंटरनेट और मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया के साथ बैठक कर जागरुकता अभियान चलाने का फैसला भी लिया था. इसमें कहा गया था कि देशभर में 100 करोड़ से अधिक मोबाइल उपभोक्ताओं तक पहुंचने में सोशल मीडिया की अहम भूमिका है. इसमें यह भी तय किया गया था कि सोशल मीडिया के जरिये संदेश प्रेषित करने अथवा बेहतर संवाद स्थापित करने का अवसर मिल सकता है.

इसे भी पढ़ें – झारखंड की 10 सीटों पर भाजपा ने उम्मीदवारों के नाम घोषित किये, खूंटी से अर्जुन मुंडा लड़ेंगे

कंटेंट का गलत असर पड़ने जल्दी हटाने के निर्देश भी दिये है

hosp3

सभी राज्यों के राज्य निर्वाचन पदाधिकारी और सभी जिलों के जिला निर्वाची पदाधिकारी भी सोशल मीडिया के जरिये अपनी बातों को पहुंचाने में सफल साबित हो रहे हैं. फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम एकाउंट से यह बताने की कोशिश की जा रही है कि लोकतंत्र के सबसे बड़े त्यौहार में भाग लेकर सुदृढ़ लोकतंत्र स्थापित करने की आवश्यकता है. सोशल मीडिया में पारदर्शिता बरकरार रखने के लिए कंटेंट को लाइक करने, दोबारा शेयर करने अथवा कमेंट के ऑप्शन भी दिये जा रहे हैं. निर्वाचन आयोग ने सोशल मीडिया पर किसी कंटेंट का गलत असर पड़ने पर उसे जल्द से हटाने के निर्देश भी दिये हैं. इतना ही नहीं कंटेंट की सच्चाई का पता लगाकर कंटेंट प्रसारित करनेवालों पर कार्रवाई करने का निर्देश भी दिया गया है.

इसे भी पढ़ें – पलामू: आचार संहिता के बावजूद शहर में लगे हैं योजनाओं के बैनर-पोस्टर 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: