न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आठवां राष्ट्रीय महिला पुलिस सम्मेलन संपन्न, राज्यपाल ने कहा- हमेशा हों ऐसे सम्मेलन

39

Ranchi : झारखंड पुलिस और राष्ट्रीय अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो के संयुक्त तत्वावधान में रांची के धुर्वा स्थित ज्यूडिशियल एकेडमी में आयोजित दो दिवसीय आठवें राष्ट्रीय महिला पुलिस सम्मेलन का मंगलवार को समापन हो गया. समापन समारोह की मुख्य अतिथि झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू थीं. बता दें कि झारखंड में राष्ट्रीय महिला पुलिस सम्मेलन का आयोजन पहली बार आयोजित हुआ. इस अवसर पर राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने अपने संबोधन में कहा कि इस तरह के सम्मेलन के जरिये महिला पुलिसकर्मी अपनी समस्याएं रख पाती हैं. इसलिए जरूरी है कि इस तरह के सम्मेलन लगातार होते रहे. इस तरह के सम्मेलन के होने से महिला पुलिसकर्मी अपनी बात और अपनी समस्या को सामने रख सकेंगी. सम्मेलन के दूसरे दिन भी देश भर के सभी राज्यों से आयीं महिला पुलिसकर्मियों व सेंट्रल पारा मिलिट्री फोर्स की महिला पदाधिकारियों व कर्मियों ने अपनी समस्याएं व विचार रखे.

 कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर हुई चर्चा

दो दिनों तक चले आठवें राष्ट्रीय महिला पुलिस सम्मेलन में महिला पुलिसकर्मियों की चुनौती, परेशानी और उससे निपटने के सुझाव पर चर्चा हुई. अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो द्वारा इस दिशा में क्या कार्रवाई की गयी, इसकी भी समीक्षा की गयी. अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो द्वारा पुलिस व केंद्रीय सशस्त्र पुलिसबलों में यौन उत्पीड़न से निपटने और उनकी निगरानी का काम किया जा रहा है. सम्मेलन के दौरान यौन उत्पीड़न, तकनीक के इस्तेमाल, सेंट्रल पारा मिलिट्री फोर्स में महिलाओं की समस्या, सेफ सिटी बनाने में महिलाओं की भूमिका व योगदान पर चर्चा की गयी.

देश भर से आये 149 प्रतिभागी

आठवें राष्ट्रीय महिला सम्मेलन में देशभर से 149 प्रतिभागी शामिल हुए. सिपाही से लेकर डीजी स्तर की महिला पुलिस पदाधिकारियों की सहभागिता देखी गयी. मुख्य वक्ता के तौर पर राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा, जस्टिस ज्ञान सुधा मिश्रा, डीजी एपी माहेश्वरी, रिटायर्ड आईपीएस मीरन सी बोरवांकर समेत कई अन्य गणमान्य वक्ता शामिल हुए.

इसे भी पढ़ें- 49वें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में ‘फोकस स्टेट’ होगा झारखंड, यहां बनीं सात फिल्में की जायेंगी…

इसे भी पढ़ें- राज्य के 18 जिलों के 129 प्रखंड सूखाग्रस्त, कैबिनेट की लगी मुहर

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: