Crime NewsDhanbadJharkhand

सेक्स रैकेट में फंसी आठवीं की छात्रा, पुलिस सबकुछ जानकर भी नहीं कर रही कार्रवाई

Dhanbad: मां की डांट के बाद गुस्सा होकर घर से भागी एक नाबालिग छात्रा सेक्स रैकेट के चंगुल में फंस गयी है. लड़की इस चंगुल से एक दूसरी लड़की की मदद से भाग निकली थी, लेकिन वह दुबारा फिर उसी चंगुल में फंस गयी है. इस जाल से निकालने वाली लड़की खुद इस रैकेट में तीन साल से फंसी हुई थी. वो तो बच गयी लेकिन जिसे उसने इस रैकेट से निकाला, वो फिर से उसी रैकेट में जा फंसी है. साथ भागने वाली दूसरी लड़की ने पहली लड़की के घर वालों को इसकी सूचना दी है. अभी भी सेक्स रैकेट में फंसी यह छात्रा धनबाद के भूली की रहने वाली है. और आठवीं की छात्रा है. छात्रा के परिजन अपनी बेटी को बचा लेने की पुलिस से दुहाई कर रहे हैं. परिजन एक महीने से स्थानीय थाना से लेकर उच्च अधिकारियों तक के दफ्फ्तर के चक्कर काट रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंः आत्मसमर्पण करनेवाले उग्रवादी ने कहा- टीपीसी में शोषण के चलते नीचे पद के लोग छोड़ रहे हैं संगठन, देखें वीडियो

क्या है पूरा मामला

Catalyst IAS
ram janam hospital

मामला भूली थाना क्षेत्र का है. परिजनों ने मुताबिक़ छात्रा की आठवीं की परीक्षा सामने थी और वह हमेशा मोबाइल में व्यस्त रहती थी. घरवालों के मुताबिक़ पटना में रहने वाले किसी अमित से उसकी बात होती थी. मां ने इस बात को लेकर उसे डांटा फटकारा और परीक्षा में ध्यान लगाने को कहा. इस बात का वह बुरा मान गयी और 2 फरवरी की सुबह अपने घर से किसी को बिना कुछ बताये निकल गयी. घरवालों ने काफी खोजबीन की.  पुलिस को भी सूचना दी. पुलिस ने इस मामले को प्रेम-प्रसंग मानकर केस में दिलचस्पी नहीं दिखाई. लेकिन मां का दिल मानने को तैयार नहीं था. वो उच्च अधिकारियो तक जाकर बेटी की खोजबीन और सलामती के लिए आरजू मिन्नत करती रही.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

इसे भी पढ़ेंः झारखंड में लोकसभा चुनाव और आगामी विधानसभा चुनाव की होगी जीपीएस ट्रैकिंग

सेक्स रैकेट से जुडी लड़की ने खोला राज

चार दिन पहले रांची की रहने वाली एक लड़की छात्रा के फोन की मदद से उसके घरवालों तक पंहुची. उसने जो बातें घरवालों को बतायीं, वो चौकाने वाली थीं. लड़की ने बताया है कि छात्रा सेक्स रैकेट के दलालों के हाथ में फंस गयी है. वो खुद उनके चंगुल से उसे लेकर नवादा से भागी थी. लेकिन जब रांची अपने घरवालों से मिलकर उसे धनबाद के लिए गाडी बिठाने बस स्टैंड आयी, तो नवादा से पीछा करते हुए प्रिंस नाम का दलाल उसे जबरन पकड़कर ले गया. वो बाथरूम गयी थी इसलिए बच गयी. इसके बाद उसने छात्रा के मोबाईल के जरिये उसके घरवालों से संपर्क किया और धनबाद पहुंची. परिजनों को उसने सारा हाल बताया जिसके बाद घरवालों का रो रोकर बुरा हाल है.

 सबकुछ जानने के बाद भी पुलिस कर रही है लापरवाही

छात्रा को उस नरक से भगाकर घर लाने की हिम्मत दिखाने वाली उस लड़की का कहना है कि छात्रा के साथ बहुत बुरा होने वाला है. उसे कोलकाता में बेचने की तैयारी चल रही है. लेकिन वो ऐसा होने नहीं देना चाहती. वह पुलिस को सबकुछ बता चुकी है. उनके ठिकानो तक भी वह पंहुचा सकती है. लेकिन पुलिस इस मामले में दिलचस्पी नहीं दिखा रही है.

क्या कहती है पुलिस

मुकेश कुमार ( डीएसपी लॉ एन्ड आर्डर) ने बताया कि रांची की जो लड़की यहां पंहुची है, वो बदल-बदल कर बयान दे रही है. पहले पुलिस उसके बयानों की पुष्टि और जांच करेगी फिर उसके बताये स्थानों पर छापेमारी की जायेगी. छात्रा की रिकवरी के लिए हर तरह की जांच-पड़ताल चल रही है.

इसे भी पढ़ेंः बोले जस्टिस जे चेलमेश्वर, कुछ जज ऐसे, जिन्हें झुकाया जा सकता है

Related Articles

Back to top button