न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

फर्जी आधार कार्ड के जरिये कई जगहों से राशन उठा रहे आठ हजार लोगों पर होगी प्राथमिकी

रांची, जमशेदपुर और कई जगहों पर ऐसे फरजी लोगों का चला पता

186
        खाद्य, सार्वजनिक वितरण और उपभोक्ता मामलों के मंत्री सरयू राय ने दिया आदेश

Ranchi : राज्य में फरजी आधार कार्ड के जरिये कई जिलों से राशन सामग्री उठानेवाले आठ हजार लोगों पर सरकार की तरफ से कार्रवाई की जायेगी. खाद्य सार्वजनिक वितरण और उपभोक्ता मामलों के मंत्री सरयू राय ने कहा है कि रांची, जमशेदपुर और अन्य जगहों पर यह फर्जीवाड़ा पता चला है. इन लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने, सर्टिफिकेट केस करने के निर्देश दे दिये गये हैं. उन्होंने कहा कि नेशनल इंफोरमेटिक्स सेंटर(एनआइसी) के माध्यम से ऐसे फरजी आधारकार्ड धारकों की सूची तैयार की गयी है.

इसे भी पढ़ें :दुमका : सीनियर छात्र करते थे जूनियर छात्रों से नशे के नाम पर वसूली

अक्टूबर का राशन अक्टूबर माह में ही मिले, इसकी कोशिश जारी

जन वितरण प्रणाली की दुकानों से अब डीबीटी के जरिये खाद्यान का वितरण किया जा रहा है. इस पर भी कई गड़बड़ियां सामने आ रही हैं. ऐसी गड़बड़ियों को दुरुस्त करने की प्रक्रिया चल रही है. उन्होंने कहा कि सरकार चाहती है कि जन वितरण प्रणाली की दुकानों से राशन समय पर मिले. यह सुनिश्चित किया जा रहा है. अगले माह यानी अक्तूबर का राशन अक्तूबर माह में ही मिले, इसकी सभी कोशिशें की जा रही हैं.

अभी 49 प्रतिशत लाभुक ही प्रति माह अपने कोटे का राशन जन वितरण प्रणाली की दुकानों से लेते हैं. इसे शत प्रतिशत तक पहुंचाया जायेगा. सभी राशन डीलरों को राशन की कटौती को नियमित करने का निर्देश भी दिया गया है. भारतीय खाद्य निगम और राज्य खाद्य निगम के गोदामों से बकाया आपूर्ति का निबटारा करने को लेकर बैठकें भी बुलायी जायेंगी. दो-दो महीने में राशन की कटौती मामले की समीक्षा कर, उसे नियमित करने का प्रयास किया जायेगा.

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: