JharkhandLohardaga

लोहरदगा जिले में सौहार्द और उल्लास के साथ मनाई जा रही है ईद

  •  ईदगाह और मस्जिदों में नमाज के लिए बड़ी संख्या में पहुंचे इस्लाम धर्मावलंबी
  •  सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम, ड्रोन और वीडियो कैमरे से निगरानी

Lohardaga : लोहरदगा में ईद का त्यौहार सौहार्द और उल्लास के साथ मनाया जा रहा है. तीन मई की सुबह लोहरदगा शहर के ईदगाह सहित ग्रामीण अंचलों के तमाम ईदगाह और मस्जिदों में नमाज अदा की गई.
इस मौके पर जिले के पुलिस कप्तान आर रामकुमार के दिशा निर्देश पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम थे. इसकी कमान एसडीपीओ वशिष्ठ नारायण सिंह ने संभाल रखी थी.

लोहरदगा ईदगाह में बड़ी संख्या में इस्लाम धर्मावलंबी नमाज अदा करने पहुंचे. गले मिलकर एक दूसरे को मुबारकबाद दी. मौके पर अंजुमन इस्लामिया के सदर हाजी अफसर कुरैशी ने कहा कि ईद प्रेम और सौहार्द का त्यौहार है. हम सभी इसे भाईचारे की भावना के साथ मना रहे हैं और देश और समाज में अमन चैन और खुशहाली की कामना कर रहे हैं.

Catalyst IAS
ram janam hospital

अंजुमन के सादिक नाजिम ए आला अब्दुल जब्बार ने कहा कि पिछले दिनों हुई घटनाओं से पूरे देश में लोहरदगा का नाम बदनाम हुआ है. अमन चैन और भाईचारे का संदेश इस ईद के जरिए हम देना चाहते हैं और सौहार्द की मिसाल कायम करना चाहते हैं. ईद की नमाज के बाद इसके लिए दुआ भी मांगी गई. लोहरदगा हमेशा से सौहार्द और मेल मिलाप के लिए जाना जाता रहा है और आगे भी ऐसा ही होगा.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

मौके पर सुरक्षा व्यवस्था की कमान संभाल रहे लोहरदगा के एसडीपीओ वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि पूरे लोहरदगा जिले में ईद शांतिपूर्ण और खुशगवार माहौल में मनाई जा रही है. सुरक्षा बलों की पर्याप्त तैनाती है. वीडियो कैमरा और ड्रोन कैमरे के जरिये निगरानी की जा रही है.

इसे भी पढ़ें : चाईबासा: पर्व त्यौहार में भी नहीं हुई पेयजल आपूर्ति, लोग हुए हलकान

खूबसूरती से सजाया गया ईदगाह

ईदगाह को बेहद खूबसूरती से सजाया गया है. प्रवेश द्वार पर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा लहरा रहा था. काफी संख्या में बच्चे भी यहां पहुंचे थे और नमाज के बाद मेले जैसा माहौल रहा. लोगों ने एक दूसरे को गले मिलकर बधाईयां दी और ईद की सेवइयां खाने के लिए घर में आमंत्रित किया.

इसे भी पढ़ें : Jharkhand: 59 आइटीआइ में जल्द ही 726 प्रशिक्षण पदाधिकारियों की होगी नियुक्ति, जल्द अड़चन होगी दूर

Related Articles

Back to top button