न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

देशभर में ईद की रौनक, राष्ट्रपति कोविंद, PM मोदी व राहुल ने दी बधाई

73

New Delhi : रोजेदारों को महीने भर रोजे रखने के बाद मंगलवार शाम ईद के चांद का दीदार हो गया. जिसके बाद बुधवार को देशभर में ईद की रौनक देखने को मिल रही है. ईद की रौनक के बीच लोग एक दूसरे को शुभकामनाएं दे रहे हैं.

ईद का त्योहार धूमधाम से मनाया जा रहा है. रात भर बाजारों में रौनक रही. लोगों ने सेवई, कपड़ों की खूब खरीदारी की. जिसके बाद बुधवाह सुबह-सुबह मस्जिदों में नमाज के लिए पहुंचे.

इन्होंने ट्वीट कर दी बधाई

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने देशवासियों को ईद की शुभकामनाएं दी. राष्ट्रपति कोविंद ने ट्वीट किया कि सभी देशवासियों, खास तौर से देश और विदेश के हमारे मुस्लिम भाइयों और बहनों को ईद मुबारक. रमजान के महीने के समापन का यह त्योहार परोपकार और भाईचारे की भावना में हमारे विश्वास को मजबूत बनाता है. यह शुभ दिन हम सब के परिवारों में खुशियां, शांति और समृद्धि लाए.


वहीं पीएम मोदी ने भी ईद की बधाई दी और ट्विटर पर लिखा कि यह खास दिन हमारे समाज में सद्भाव, करुणा और शांति की भावना को बनाए रखता है. मैं दुआ करता हूं कि सभी को खुशियां मिले.


गृह मंत्री अमित शाह ने देशवासियों को बुधवार को ईद की मुबारकबाद दी और उम्मीद जताई कि यह त्योहार सभी के लिए शांति और खुशियां लेकर आएगा. शाह ने ट्वीट किया कि मैं ईद उल फित्र के मौके पर मुबारकबाद देता हूं. यह त्योहार सभी के जीवन में शांति और खुशियां लेकर आए.

वहीं राहुल गाधी ने भी ईद मुबारक की बधाई दी और ट्वीट किया कि ईदुलफितर के शुभ अवसर पर सभी को मेरी शुभकामनाएं.


ममता बनर्जी ने ईद की शुभकामना देते हुए लिखा कि ‘धर्म व्यक्तिगत आस्था का विषय है लेकिन त्योहार सार्वभौमिक हैं. आइए हम एकता की इस भावना को बनाए रखें और शांति और सद्भाव में एक साथ रहें. ईद मुबारक.

सात मई से शुरू हुआ था रमजान का महीना 

गौरतलब है कि ईद का त्यौहार रमजान के रोज रखने बाद मनाया जाता है. इस बार रमजान का महीना सात मई से शुरू हुआ था और चार जून को खत्म हो गया. रमजान के महीने में रोजेदार सुबह सूरज निकलने से लेकर शाम को सूरज डूबने तक कुछ भी खाते पीते नहीं हैं.

यहां तक की पानी भी नहीं पीते हैं. इस बार भीषण गर्मी पड़ने की वजह से रमजान के महीने ने रोजेदारों का कड़ा इम्तिहान लिया, क्योंकि पारा 47 डिग्री सेल्सियस के आसपास तक पहुंच गया था.

बहरहाल, सउदी अरब समेत खाड़ी के देशों में सोमवार को ईद का चांद नजर आ गया था और मंगलवार को वहां ईद मना ली गई. इससे यह अनुमान लगाया जा रहा था कि भारत में बुधवार को ईद मनाई जाएगी. आम तौर पर सउदी अरब में ईद मनाने के एक दिन बाद भारत में यह त्यौहार मनाया जाता है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता का संकट लगातार गहराता जा रहा है. भारत के लोकतंत्र के लिए यह एक गंभीर और खतरनाक स्थिति है. कारपोरेट तथा सत्ता संस्थान मजबूत होते जा रहे हैं. जनसरोकार के सवाल ओझल हैं और प्रायोजित या पेड या फेक न्यूज का असर गहरा गया है. कारपोरेट, विज्ञानपदाताओं और सरकारों पर बढ़ती निर्भरता के कारण मीडिया की स्वायत्तता खत्म सी हो गयी है. न्यूजविंग इस चुनौतीपूर्ण दौर में सरोकार की पत्रकारिता पूरी स्वायत्तता के साथ कर रहा है. लेकिन इसके लिए आप सुधि पाठकों का सक्रिय सहभाग और सहयोग जरूरी है. हमने पिछले डेढ़ साल में बिना दबाव में आए पत्रकारिता के मूल्यों को जीवित रखा है. पत्रकारिता के इस प्रयोग में आप हमें मदद करेंगे यह भरोसा है. आप न्यूनतम 10 रुपए और अधिकतम 5000 रुपए का सहयोग दे सकते हैं. हमारा वादा है कि हम आपके विश्वास पर खरा साबित होंगे और दबावों के इस दौर में पत्रकारिता के जनहितस्वर को बुलंद रखेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता…

 नीचे दिये गये लिंक पर क्लिक कर भेजें.
%d bloggers like this: