न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए करें प्रयास : शांतनु अग्रहरि

सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में डीसी ने दिए कई दिशा-निर्देश

112

Palamu : सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में पलामू डीसी डॉ शांतनु कुमार अग्रहरि ने कई दिशा-निर्देश नगर निगम के कार्यपालक पदाधिकारी, डीटीओ, पुलिस उपाधीक्षक व आईटी मैनेजर को दिया. जिसका अनुपालन हर हाल में 1 माह के अंदर सुनिश्चित करने का निर्देश बैठक के दौरान डीसी ने अधिकारियों को दिए. डीसी अग्रहरि ने बताया कि दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए अब तक जो प्रयास किए गए हैं वह नाकाफी साबित हो रहे हैं इसलिए इस पर गंभीरता से सोचना होगा. क्योंकि जीवन बचाने के लिए कुछ भी करना पड़े तो करें. उन्होंने कहा कि जिले में जितने भी डार्क स्पॉट हैं, उसको चिन्हित कर रम्बल स्ट्रीप का निर्माण कराएं.

इसे भी पढ़े: NEWSWING IMPACT: प्रशासन ने की सख्ती, पाकुड़ में बंद हुआ अवैध बालू उठाव

चौराहों के आसपास 20 मीटर तक कोई दुकान नहीं लगे

hosp1

संबंधित डार्क स्पॉट के पास साइनेज बोर्ड लगाएं आवश्यक हो तब 2.5 सेंटीमीटर से ज्यदा का रंबंल स्ट्रीट का निर्माण कराने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि लाइफ से ज्यादा कीमती कुछ भी नहीं है. इसके लिए उन्होंने एनएच के कार्यपालक अभियंता को कई निर्देश दिए. उन्होंने छतरपुर हुसैनाबाद रोड की स्थिति को भी ठीक करने का निर्देश स्टेट हाईवे के अधिकारियों को दिया. डीसी ने नगर निगम क्षेत्र में प्रमुख चौक चौराहों को चौराहों के आसपास 20 मीटर तक कोई भी दुकान नहीं लगाने के लिए दिशा निर्देश दिया है. इसके लिए डीएसपी प्रेमनाथ व कार्यपालक पदाधिकारी अजय कुमार साहू को विशेष दिशा-निर्देश दिए गए. उन्होंने कहा कि जाम से निजात पाने के लिए भी व्यापक प्रबंध करें ताकि दुर्घटना कम हो सके.

इसे भी पढ़ें: ‘न्यूज विंग’ की खबर पर राजभवन ने लिया संज्ञान, कुलपति से मांगा स्पष्टीकरण

हेलमेट चेकिंग और स्कूल बसों की चेकिंग का निर्देश

उन्होंने कहा कि ऑटो स्टैंड से ही ऑटो निकले तो सीधा गंतव्य की ओर जाए. इस बात का ध्यान रखें और इसे सुनिश्चित कराएं इसके लिए डीएसपी प्रेमनाथ को निर्देश दिया गया कि वह अपने स्तर से ट्रैफिक पुलिस को लगाकर इसे सुनिश्चित करें. उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि कचहरी परिसर में कोई भी वाहन इधर-उधर अगर लगाता है तब नगर निगम अपने स्तर से जुर्माना करें और डीटीओ अपने स्तर से उस पर जुर्माना चार्ज करें ताकि लोग पार्किंग में ही अपना वाहन लगा सकें. हेलमेट चेकिंग और स्कूल बसों की चेकिंग का भी निर्देश दिया गया. उन्होंने कहा कि स्कूल बस में ड्राइवर कंडक्टर का कैरक्टर वेरीफिकेशन किया जाए और पूरी जानकारी स्कूल प्रबंधन से मांगी जाए. उनके यहां बस कब से चल रहा है. जिसका उपयोग बच्चों को लाने ले जाने में किया जा रहा हैं वह मानदंड के अनुरूप है या नहीं इसे देखें.

इस बात को भी अभियान चलाकर देखें कि वाहन का फिटनेस है कि नहीं. यह भी कहा कि विज्ञापन का जहां होडिंग लगा है उसका लाइसेंस कितने लोगों को नगर निगम से मिला है और कितने प्राइवेट रूप में दिया गया है इसका आकलन करें. इनके नीचे कोई भी दुकान नहीं लगा इस बात को सुनिश्चित करें.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: