न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#EDUCATION: 8वीं बोर्ड परीक्षा का पैटर्न बदला- दो पेपर की परीक्षा, एक का स्कूल स्तर पर मूल्यांकन

688

Ranchi : आठवीं बोर्ड परीक्षा का पैटर्न बदला गया है. अब तीन पेपर होंगे जिसमें दो पेपर की परीक्षा होगी और एक पेपर का विद्यालय स्तर पर मूल्यांकन किया जायेगा. तीनों पेपर 400 अंकों के होंगे.

इससे पहले एक पेपर की परीक्षा होती थी जिसके लिए 100 अंक होते थे. स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने नये पैटर्न को लेकर दिशा-निर्देश जारी कर दिया है.

शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव एपी सिंह ने झारखंड एकेडमिक काउंसिल को नये पैटर्न के अनुसार परीक्षा आयोजित करने को कहा है.

इसे भी पढ़ें : #Jamshedpur : मोदी-शाह के नाम पर वोट मांग रहे रामचंद्र सहिस, पर्चे पर विवाद, भाजपा ने की शिकायत

hotlips top

पहले की तरह सभी प्रश्न बहुविकल्पीय

परीक्षा में पहले की तरह सभी प्रश्न बहुविकल्पीय होंगे. 400 अंकों में 300 अंकों की परीक्षा होगी जबकि 100 अंक विद्यालय द्वारा विद्यार्थियों के विभिन्न स्तर पर मूल्यांकन पर दिया जायेगा.

तीन पेपर में पेपर वन व टू 150-150 अंकों का तथा पेपर थ्री 100 अंकों का होगा. पेपर वन में हिंदी, अंग्रेजी व संस्कृत/उर्दू/क्षेत्रीय भाषा में से कोई एक 50-50 अंकों का होगा.

30 may to 1 june

इसी तरह पेपर टू में गणित, विज्ञान व सामाजिक विज्ञान की परीक्षा 50-50 अंकों की होगी. पेपर तीन के तहत 40 अंक छात्र-छात्रा की उपस्थिति पर मिलेगा.

इसी तरह 40 अंक झारखंड शिक्षा परियोजना द्वारा आयोजित परीक्षा एफए-1, 2, 3, 4 एवं एसए-1 के प्रदर्शन पर दिया जायेगा.

इसे भी पढ़ें : #JharkhandElection : 32 सालों तक छत्रुराम व माधवलाल के इर्द-गिर्द घूमती रही गोमिया की राजनीति, इस बार अलग है सीन

अन्य कार्यों के लिए 10 अंक

बाल संसद में सहभागिता, विद्यालय स्वच्छता/हैंड वाशिंग/किचन गार्डेन एवं मध्याहृन भोजन में सहयोग के स्तर पर 10 अंक निर्धारित हैं.

इसके अलावा 5 अंक प्रखंड स्तर पर पुरस्कार (वाद-विवाद प्रतियोगिता/क्विज/स्वच्छता संबंधी कार्यकलाप) तथा 5 अंक खेलकूद के आधार पर हैं.

शिक्षा सचिव ने कहा है कि परीक्षा सामान्यत: उन्हीं केंद्रों पर हो जो 10वीं व 12वीं परीक्षा के लिए चिन्हित हैं. साथ इस बात का ध्यान जरुर रखा जाये कि वहां सीसीटीवी हो.

विद्यालय स्तर पर किये गये मूल्यांकन की प्रति विद्यालय प्रधान झारखंड एकेडमिक काउंसिल को उपलब्ध करायेंगे. इसकी ऑनलाइन इंट्री होगी.

परीक्षा के आधार पर प्राप्तांक एवं विद्यालय स्तर पर मूल्यांकन का प्राप्तांक जोड़कर जैक द्वारा मेधा सूची तैयार की जायेगी. परीक्षाफल का प्रकाशन जैक एवं शिक्षा विभाग के पोर्टल पर किया जायेगा.

असफल विद्यार्थियों के लिए पूरक परीक्षा

आठवीं बोर्ड में असफल विद्यार्थियों के लिए पूरक परीक्षा आयोजित की जायेगी. इसका आयोजन ग्रीष्मावकाश तक कर लिया जायेगा ताकि सफल विद्यार्थी आगामी कक्षा में सत्र के अनुसार पठन-पाठन कर सकें.

इससे पहले ओएमआर शीट पर दो बार आठवीं बोर्ड की परीक्षा हो चुकी है. इसमें पांच विषय हिंदी, अंग्रेजी, गणित, विज्ञान व सामाजिक विज्ञान से 20-20 आब्जेक्टिव प्रश्न पूछे जाते थे.

जनवरी में नहीं हो पायेगी परीक्षा

इस बार भी इसी पैटर्न पर परीक्षा आयोजन की योजना थी. जैक ने इस पैटर्न पर मॉडल प्रश्नपत्र भी जारी कर दिया. परीक्षा की संभावित तिथि 7 जनवरी भी निर्धारित कर दी गयी थी.

लेकिन अब नये पैटर्न के अनुसार मॉडल प्रश्नपत्र तैयार कर वेबसाइट पर अपलोड करना होगा. साथ ही परीक्षा भी दो दिन होगी. ऐसे में अब जनवरी में आठवीं बोर्ड की परीक्षा का आयोजन संभव नहीं होगा.

इसे भी पढ़ें : #Unemployment: सफाई कर्मचारियों के 549 पद के लिए 7000 इंजीनियर, ग्रेजुएट और डिप्लोमा होल्डर ने किया आवेदन

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like