न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ईडी ने एनोस एक्का की सभी संपत्ति की सील

25 सितंबर तक राजधानी रांची के सभी फ्लैट, बंगले को खाली करने का दिया गया था नोटिस एनोस पर 2011 से चल रहा है प्रवर्तन निदेशालय में मामला

271

Ranchi: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार को राज्य के पूर्व मंत्री एनोस एक्का की सभी संपत्ति को सील कर दिया. पूर्व मंत्री के राजधानी रांची स्थित एयरपोर्ट रोड के फ्लैट समेत, हरिओम टावर के सी-5 फ्लैट, ओरमांझी में चार एकड़ से अधिक की जमीन, श्रीराम गार्डेन स्थित फ्लैट और चुटिया के सिरमटोली स्थित जमीन को सील कर दिया गया है. ईडी की टीम ने गुरुवार को सुबह से ही अपनी कार्रवाई शुरू की. इसको लेकर सभी जगहों पर एनोस एक्का और उनकी पत्नी मेमन एक्का के नाम से संबंधित नोटिसनुमा बैनर भी चिपकाये गये. गुरुवार की कार्रवाई के तहत एनोस एक्का की अर्जित संपत्ति की कीमत 10 करोड़ से अधिक आंकी गयी है. ईडी की तरफ से 25 सितंबर तक सजा काट रहे एनोस एक्का को उपरोक्त सभी फ्लैट और संपत्ति को खाली करने का नोटिस भेजा गया था. इनके खिलाफ आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने और सरकार में मंत्री रहते हुए अनियमितता बरतते हुए वित्तीय गड़़बड़ी करने का आरोप 2011 से चल रहा है.

इसे भी पढ़ें: रांची से अगवा युवती से सामूहिक दुष्‍कर्म मामले के सभी चार आरोपी 48 घंटे में गिरफ्तार

जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहे हैं एनोस

एनोस एक्का फिलहाल बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा में सिमडेगा के पारा शिक्षक की हत्या मामले पर आजीवन कारावास की सजा काट रहे हैं. ईडी के अधिकारियों के मुताबिक चल और अचल संपत्ति का आकलन अभी जारी है. पूर्व में भी 2011 में एयरपोर्ट के फ्लैट को सील किया गया था. एक्का ने इसके बाद ईडी के पास उनकी संपत्ति को अटैच नहीं करते हुए स्टे हटाने की मांग की थी. स्टे की मियाद समाप्त होने के बाद ईडी ने यह कार्रवाई की है.

इसे भी पढ़ें: सरकारी आफिसों में अंधेरगर्दी पर किससे करें सवाल…कौन सुनेगा ?

नोटिस चिपकाने के कुछ ही घंटे बाद फाड़ा गया बैनर

ईडी के नोटिस चिपकाये जाने के कुछ ही घंटे बाद नोटिसनुमा बैनर फाड़ दिया गया. असामाजिक तत्वों की इस कार्रवाई पर ईडी की तरफ से राज्य के डीजीपी डीके पांडेय से एयरपोर्ट और अन्य जगहों के बंगले की सुरक्षा के लिए पत्र लिखने का निर्णय लिया गया है. पत्र के जरिये इन अटैच की जानेवाली संपत्ति के समक्ष पर्याप्त सुरक्षा बल की तैनाती करने का आग्रह किया जायेगा, ताकि बंगले के आसपास भटकनेवाले अवांछित लोगों पर नजर रखी जा सके.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: