न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#EconomySlowdown: अब UN ने भारत की GDP ग्रोथ रेट अनुमान को घटाकर 5.7% किया

948

NewYork/New Delhi: आर्थिक मोर्चे से देश को निराश करने वाली खबरें लगातार आ रही है. घटती मांग और बढ़ती महंगाई के बीच अब संयुक्त राष्ट्र ने भारत की जीडीपी ग्रोथ अनुमान को घटाया है.

यूएन ने गुरुवार को कहा कि भारत की आर्थिक वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष में 5.7 प्रतिशत रह सकती है. यह वैश्विक निकाय के पूर्व के अनुमान से कम है. पिछले साल यूएन ने वित्त वर्ष 2019-20 में 7.6 फीसदी जीडीपी ग्रोथ का अनुमान लगाया था.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ेंःनीतीश के जल जीवन हरियाली कार्यक्रम को लेकर लालू ने साधा निशाना 

संयुक्त राष्ट्र के एक अध्ययन में कहा गया है कि कुछ अन्य उभरते देशों में जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) वृद्धि दर में इस साल कुछ तेजी आ सकती है. पिछले साल वैश्विक आर्थिक वृद्धि दर सबसे कम 2.3 प्रतिशत रहने के बाद संयुक्त राष्ट्र ने यह बात कही.

संयुक्त राष्ट्र विश्व आर्थिक स्थिति और संभावना (डब्ल्यूईएसपी), 2020 के अनुसार 2020 में 2.5 प्रतिशत वृद्धि की संभावना है. लेकिन व्यापार तनाव, वित्तीय उठा-पटक या भू-राजनीतिक तनाव बढ़ने चीजें पटरी से उतर सकती हैं.

7.6 फीसदी जीडीपी ग्रोथ का था अनुमान

भारत के बारे में रिपोर्ट में कहा गया है कि चालू वित्त वर्ष में आर्थिक वृद्धि दर 5.7 प्रतिशत रह सकती है. हालांकि डब्ल्यूईएसपी 2019 में इसके 7.6 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया गया था.

वहीं अगले वित्त वर्ष में आर्थिक वृद्धि दर 6.6 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया गया जबकि पूर्व में इसके 7.4 प्रतिशत रहने की बात कही गयी थी.

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत की जीडीपी वृद्धि दर पिछले वित्त वर्ष में 6.8 प्रतिशत रही.

इसे भी पढ़ेंःनीतीश के जल जीवन हरियाली कार्यक्रम को लेकर लालू ने साधा निशाना 

वर्ल्ड बैंक ने भी घटाया था अनुमान

याद दिला दें कि साल 2020 की शुरुआत में वर्ल्ड बैंक ने भी भारत के जीडीपी ग्रोथ के अनुमान को घटा दिया था. विश्व बैंक ने कहा था कि वित्त वर्ष 2019-2020 में भारत की जीडीपी में बढ़त दर सिर्फ 5 प्रतिशत रह सकती है.

इसके बाद अगले वित्त वर्ष में भी भारत के जीडीपी में सिर्फ 5.8 फीसदी बढ़त का वर्ल्ड बैंक ने अनुमान लगाया था. इसके पहले अक्टूबर, 2019 में विश्व बैंक का अनुमान था कि वित्त वर्ष 2019-20 के लिए भारत के जीडीपी में 6 फीसदी की ग्रोथ हो सकती है.

इसे भी पढ़ेंः#Palamu: शौचालय निर्माण में घोटाले में शोकॉज का जवाब नहीं देने पर पांकी के ब्लॉक कोर्डिनेटर बर्खास्त

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like