JamshedpurJharkhand

#EconomicSlowdown: अगले 5 महीनों में टाटा मोटर्स 30 दिन और टाटा कमिंस 15 दिन का लेगी ब्लॉक क्लोजर

Abinash Mishra

Jamshedpur : वित्तीय वर्ष 2019-20 के खत्म होने में पांच महीने बाकी हैं. लेकिन नवंबर खत्म होने से पहले ही टाटा मोटर्स में 39 दिन का ब्लॉक क्लोजर हो चुका है. इसके बाद भी टाटा मोटर्स में क्लोजर थमेगा नहीं.

टाटा मोटर्स प्रबंधन अभी और ब्लॉक क्लोजर की तैयारी में है. कंपनी ने अगले पांच महीने और 30 दिन के क्लोजर की रूपरेखा तैयार की है. इसके लिए टाटा प्रबंधन ने टाटा मोटर्स यूनियन को पत्र भेज इत्तला भी कर दिया है.

advt

अगले हफ्ते बैठक होनी है जहां मुहर लगनी तय है क्योंकि युनियन भी इसकी पक्षधर है. आपको बता दें कि टाटा प्रबंधन को ब्लॉक क्लोजर लेने से पहले यूनियन से सहमति लेनी पड़ती है. दोनों की आपसी सहमति से क्लोजर की अवधि तय होती है.

इसे भी पढ़ें : फंडिंग होने के बाद भी राज्य में नहीं बांटे गये एक भी सोलर लालटेन, अब फिर दिया गया 18 हजार का ऑर्डर

जारी रहेगी मंदी

दरअसल, मंदी की मार से सबसे ज्यादा ऑटोमोबाइल सेक्टर त्रस्त है. 2020 की पहली छमाही में भी इस सेक्टर के मंदी से उबरने के आसार कम हैं.

फेस्टिव सीजन के दौरान भी टाटा मोटर्स को उपभोक्ताओं से निराशा ही हाथ लगी. कंपनी उम्मीद कर रही थी की फेस्टिव सीजन टाटा मोटर्स को मंदी से उबारने में मददगार रहेगी.

adv

टाटा मोटर्स ने सितंबर से उत्पादन को 5000 यूनिट प्रति माह से घटा कर सीधे 2500 यूनिट प्रति महीने कर दिया था. अब खबरें ये आ रहीं है कि कंपनी उत्पादन को 1000 यूनिट प्रति महीने तक सीमित ऱखने का मन बना चुकी है.

इसे भी पढ़ें : #JharkhandElection 2014 में राष्ट्रीय पार्टियों को 45.27%, क्षेत्रीय दलों को 37.22% और निर्दलियों को मिले थे 6.69% वोट

टाटा मोटर्स यूनियन भी क्लोजर के पक्ष में

टाटा मोटर्स यूनियन के अध्यक्ष गुरमीत सिंह तोते भी मानते हैं कि कंपनी की हालत को देखते हुए क्लोजर जरूरी है. कंपनी को इससे कॉस्ट कंट्रोल में मदद मिलेगी.

हालांकि यूनियन क्लोजर को दो चरण में बांटने का प्रयास करेगा. पहला चरण 15 दिन का होगा जो कि तय है, उसके बाद दूसरे चरण एक बार फिर बैठक कर तय करेंगे.

क्लोजर की रेस में टाटा कमिंस भी

#EconomicSlowdown: अगले 5 महीनों में टाटा मोटर्स 30 दिन और टाटा कमिंस 15 दिन का लेगी ब्लॉक क्लोजरटाटा मोटर्स के लिए इंजन निर्माण करने वाली कंपनी टाटा कमिंस भी इस वित्तीय वर्ष के खत्म होने से पहले और 15 दिन का क्लोजर करेगी. बता दें कि 2019-20 की शुरुआत से लेकर अब तक कंपनी 19 दिन का ब्लॉक क्लोजर कर चुकी है.

समस्या जो टाटा मोटर्स के साथ है उसी का असर टाटा कमिस पर भी है. वाहन की बिक्री में गिरावट का असर इंजन के सप्लाइ पर भी पड़ा है. लिहाजा डिमांड-सप्लाइ का दंश टाटा कंमिस भी झेल रही है.

जानकारों की मानें तो अगले हफ्ते के आखिर तक टाटा कमिंस भी ब्लॉक क्लोजर का नया नोटिफिकेशन जारी कर देगी.

इसे भी पढ़ें : #PDS: पॉश मशीन खुलने से पहले हो जाती है अनाज की निकासी, तंत्र की मिलीभगत से कालाबाजारी जारी

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button