National

कांग्रेस की आर्थिक,  विदेश और राष्ट्रीय सुरक्षा समितियां गठित, आजाद, थरूर शामिल, सिब्बल बाहर, सोनिया गांधी गोवा पहुंचीं

सोनिया गांधी ने इनमें से एक भी समिति में राहुल गांधी या प्रियंका गांधी को शामिल नहीं किया है न ही इनमें कपिल सिब्बत को जगह मिली है, जिन्होंने तीन दिन पहले बिहार के चुनाव के बाद नेतृत्व को लेकर टिप्पणी की थी.

NewDelhi : कांग्रेस में जारी हलचल के बीच अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा तीन महत्वपूर्ण समितियों का गठन किये जाने की खबर है. इन समितियों में उन सभी नेताओं को जगह दी गयी है जिन्होंने हाल में पार्टी नेतृत्व के मसले पर विरोध किया था. जान लें कि सोनिया गांधी ने इनमें से एक भी समिति में राहुल गांधी या प्रियंका गांधी को शामिल नहीं किया है न ही इनमें कपिल सिब्बत को जगह मिली है, जिन्होंने तीन दिन पहले बिहार के चुनाव के बाद नेतृत्व को लेकर टिप्पणी की थी.

इसे भी पढ़े : नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने महिला कॉमेडियन भारती सिंह के घर पर छापा मारा, ड्रग्स बरामद, समन जारी

डॉक्टरों ने सोनिया को  दिल्ली के प्रदूषित माहौल से दूर रहने को कहा

इन समितियों के गठन के बाद सोनिया गांधी शुक्रवार को राहुल गांधी के साथ गोवा पहुंची. दिल्ली मे तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण और प्रदूषण के बीच डॉक्टरों ने सोनिया गांधी को सलाह दी थी कि वह कुछ समय के लिए दिल्ली के प्रदूषित माहौल से दूर रहें. सूत्रों के अनुसार  दिल्ली की हवा में मौजूद प्रदूषण के कारण सोनिया गांधी का संक्रमण व उनकी अस्थमा की तकलीफ काफी बढ़ गयी, जिसके चलते उन्हें दिल्ली से बाहर जाने की सलाह दी गयी. इसके बाद गांधी परिवार ने गोवा जाने का निर्णय लिया.

Sanjeevani

इसे भी पढ़े : इलेक्टोरल बॉन्ड से राजनीतिक पार्टियां मालामाल, बिहार चुनाव से पहले दलों ने बटोरे 282 करोड़, तीन साल में 6,493 करोड़ रुपए हासिल किये

  मनमोहन की अध्यक्षता में समितियों का गठन

सोनिया गांधी ने शुक्रवार को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की अध्यक्षता में तीन समितियों का गठन किया. हरेक समिति में पांच -पांच सदस्य शामिल हैं. कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल द्वारा जारी बयान में यह जानकारी दी गयी है.

जान लें कि आर्थिक, विदेशी मामलों और राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दों को लेकर कांग्रेस लगातार मोदी सरकार पर हमले बोलती आयी है. ऐसे में इन मुद्दों को लेकर पार्टी की नीति और लाइन तय करने के लिए सोनिया गांधी ने अलग-अलग मुद्दों के जानकार नेताओं को लेकर तीन समितियों का गठन किया है, जिनकी अध्यक्षता मनमोहन सिंह करेंगे.

  समितियों में कौन-कौन हैं

आर्थिक मामलों में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम, मलिकार्जुन खड़गे, दिग्विजय सिंह व संयोजक के रूप में जयराम रमेश शामिल किये गये है. विदेश मामलों से जुड़ी समिति में पूर्व पीएम के अलावा आनंद शर्मा, शशि थरूर, सप्तगिरि उलका व संयोजक के रूप में पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद को रखा गया है. इस क्रम में राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ी समिति में  राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद, केंद्रीय मंत्री वीरप्पा मोइली, वी वैंथिलिंगम और संयोजक के रूप में विंसेंट एच पाला को जगह मिली है.

इसे भी पढ़े : हामिद अंसारी के विचार : कोरोना संकट से पहले देश धार्मिक कट्टरता-आक्रामक राष्ट्रवाद की महामारी की चपेट में आ चुका है  

Related Articles

Back to top button