Jamshedpur

पूर्वी भारत के पहले पौधों के शोरूम फ्लोरा फोर्ट का उद्घाटन 14 नवंबर को

Jamshedpur : घर के अंदर लगाए जाने वाले पौधों का चलन तेजी से बढ़ा है. ये सिर्फ घर की शोभा नहीं बढ़ाते हैं, बल्कि अंदर के वातावरण को ताजगी से भर देते हैं. लोग बीमार कम होते हैं. कोरोना वायरस से लोगों को हुई स्वास्थ हानि से सीख लेते हुए जमशेदपुर निवासी फ्लावर शो चैंपियन प्रेरणा तोडी और विकास शर्मा ने हरियाली का सन्देश फैलाने का बीड़ा उठाया है. इसी पहल के तहत पूर्वी भारत के पहले पौधों के शोरूम फ्लोरा फोर्ट की स्थापना की गयी है. 38 सीएच एरिया नार्थ वेस्ट आशियाना गार्डंस के पास है. शोरूम का उद्घघाटन 14 नवंबर को होगा. फ्लोरा फोर्ट के पार्टनर्स प्रेरणा तोड़ी और विकास शर्मा ने बताया कि शोरूम में एयर प्यूरीफायिंग प्लांट्स की विशेष रेंज पेश की गयी है. इनका प्रयोग घर, ऑफिस सभी जगह किया जा सकता है. ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने के लिए इनका काफी प्रयोग होता है.

एलर्जी पैदा करने वाले तत्वों को करता है दूर

आंतरिक सज्जा के लिए प्लाटर्स, स्टोन्स की भी विशेष रेंज उपलब्ध है. स्पाइडर प्लांट महज दो दिनों में 90 फीसदी तक घर के वातावरण में मौजूद एलर्जी पैदा करने वाले हानिकारक तत्वों को दूर करता है. ये कार्बन मोनोऑक्साइड, बेंजीन और फॉर्मेल्डीहाइड जैसे दूषित तत्वों को हवा से दूर करता है. सबसे बढ़िया बात यह है कि इस पौधे को मेंटेन करना बड़ा सरल है.

Catalyst IAS
ram janam hospital

क्या है स्नेक प्लांट

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

स्नेक प्लांट घर की सुंदरता बढ़ाने और सेहत के लिहाज से भी अच्छा पौधा है. ये पौधा घर के वातावरण से उमस दूर करने में अहम भूमिका निभाता है. वहीं ठंड के दिनों में घरों में जरूरी नमी बनाये रखने में भी सहायक होता है. बैंबू, रबर और अरेका पाम आम पौधे हैं. लेकिन इनकी उपयोगिता किसी से कम नहीं है.

 जानिए खास  विशेषताएं

फ्लोरा फोर्ट की सबसे विशेषता यह है कि एक छत के नीचे विभिन्न प्रकार के प्लांट्स और प्लांटर्स मिलेंगे.  प्रेरणा तोड़ी और विकास शर्मा ने बताया कि अब आप बिना किसी चिंता के अपनी छुट्टियों का आनंद भी ले सकते हैं. शोरूम में सेल्फ-वॉटरिंग प्लांटर्स की रेंज उपलब्ध हैं, जो आपकी अनुपस्थिति में पौधों को पानी देते हैं और पानी संबंधी सभी चिंताओं का ख्याल रखते हैं. इससे पौधों को रोज-रोज पानी देने का झंझट खत्म होता है.

हरियाली तनाव को करता है कम

हरियाली मन को खुशी और ताजगी देती है. घर-ऑफिस के तनाव को भी कम करने में मददगार होती है. यही कारण है कि लोग अब इसे सजावट के तौर पर अपने घर, ऑफिस, होटल्स, हॉस्पिटल जिम आदि में इसका इस्तेमाल करते हैं. यही नहीं, इन पौधों के लिए मिट्टी की जरूरत नहीं होती है. गमले को हल्का करने के लिए कोकोपिट, वर्मीकंपोस्ट, परलाइट का मिश्रण प्रयोग में लाया जाता है. फ्लोरा फोर्ट में लोगों को हरियाली से संबंधित जागरूकता फैलाने के लिए वर्कशॉप का भी आयोजन किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें- घर के दूसरे तल्ले पर काम कर रहा था मजदूर, टूटे टाइल्स को हटाते ही फुफकार के साथ सांप ने काट लिया

Related Articles

Back to top button