JharkhandRanchi

Earth Day : झारखंड में राज्य स्वच्छता नीति और कंस्ट्रक्शन एंड डेमोलिशन वेस्ट मैनेजमेंट पॉलिसी के जरिये हो रहा कचरा प्रबंधन

Ranchi : दुनिया भर में गुरुवार को Earth Day मनाया गया. झारखंड में भी सेंटर फॉर एनवायरनमेंट एंड एनर्जी डेवलपमेंट (सीड) ने स्वच्छ पर्यावरण और सुरक्षित पृथ्वी के लिए ‘कूड़ा-कचरा मुक्त शहर और समाज’ से जुड़े जागरूकता अभियान का आयोजन किया. इस दौरान सात दिनों तक ऑनलाइन गतिविधियां आयोजित की गयी. साथ ही गुरुवार को फेसबुक लाइव के जरिये कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इस मौके पर स्टेट अर्बन डेवलपमेंट एजेंसी (सूडा, नगर विकास एवं आवास विभाग)  झारखंड के निदेशक अमित कुमार ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत झारखंड सरकार ने भी पहल की है. नगरपालिका क्षेत्र में ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के लिए वैज्ञानिक ढंग से काम किया जा रहा है. राज्य सरकार ने इससे संबंधित कई कदम उठाये हैं. राज्य स्वच्छता नीति और कंस्ट्रक्शन एंड डेमोलिशन वेस्ट मैनेजमेंट पॉलिसी बनायी गयी है. यूजर चार्ज बाइलाज को मंजूरी दी गयी है. प्रदूषण नियंत्रण के लिए 50 माइक्रोन से कम मोटाई वाले प्लास्टिक से बने बैग के उपयोग को प्रतिबंधित किया गया है. अपशिष्ट प्रबंधन पर जनसमुदाय की भागीदारी से शहरों को स्वच्छ बनाने में मदद मिलेगी.

 

कोरोना काल में बढा बायोमेडिकल वेस्ट का खतरा

स्टेट अर्बन डेवलपमेंट एजेंसी (झारखंड) में सालिड वेस्ट मैनेजमेंट एक्सपर्ट नवनीत कुमार ने कहा कि सूखे और गीले कचरे,  ई- वेस्ट के अलावा बायोमेडिकल वेस्ट को भी निपटाना होगा. इसमें जनभागीदारी जरूरी है. कोरोना काल में बायोमेडिकल वेस्ट ( मास्क, दस्ताना, पीपीई कीट, सीरिंज वगैरह) का निपटारा बेहद जरुरी है. इसके चलते खड़े होने वाले स्वास्थ्य संबंधी खतरों के बारे में सीड और अन्य संस्थाएं जागरूकता पैदा करने में मदद कर सकती हैं.

 

गणमान्य व्यक्तियों का समर्थन

सीड के अभियान को गणमान्य व्यक्तियों और अन्य सेलिब्रिटीज ने भी अपना समर्थन दिया है. इनमें जैसे बिहार सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री सुमित कुमार सिंह, वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक सह मुख्य जनसंपर्क अधिकारी (रांची रेल डिविजन) नीरज कुमार, प्रसिद्ध साहित्यकार पद्मश्री उषा किरण खां, फिल्म समीक्षक विनोद अनुपम, आईपीएस अफसर  सुशील कुमार, बिहार महिला उद्योग संघ की अध्यक्ष श्रीमती उषा झा, तरुमित्र बायो रिज़र्व के डायरेक्टर फादर टोनी पेन्डानाथ, केबीसी विनर फेम और पर्यावरणविद सुशील कुमार, कार्टूनिस्ट पवन के नाम शामिल हैं. सबों ने लोगों से ऐसे अभियान से जुड़ने की अपील की. इस अभियान के तहत सोशल मीडिया पोस्ट्स और वीडियो संदेश के जरिए फेसबुक, ट्विटर और लिंक्डइन के माध्यम से कुल 28344 लोगों को जोड़ा गया.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: