न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बिना परिमट के ई-रिक्शा चलानेवालों पर होगा एफआइआर, ट्रैफिक एसपी ने दी सहमति

59

Ranchi: राजधानी के मेन रोड (महात्मा गांधी मार्ग) पर बिना परमिट के चल रहे ई-रिक्शा चालकों पर नकेल कसने की तैयारी रांची नगर निगम ने की है. अपर नगर आयुक्त गिरिजा शंकर प्रसाद ने ट्रैफिक एसपी अजीत पीटर डुंगडुंग से इस पर बात कर मांग की है कि ऐसे ई-रिक्शा चालकों पर ट्रैफिक पुलिस एफआइआर दर्ज कराये. जानकारी के मुताबिक एसपी ने इस पर अपनी सहमति दे दी है. दूसरी ओर अवैध परमिट चिपका कर चलने वाले ई-रिक्शा चालकों की जांच के लिए निगम की इंर्फोसमेंट टीम विशेष मशीन का सहारा लेगी. टीम के सदस्य शहर के तीन मुख्य चौराहों पर खड़े होकर ई-रिक्शा चालकों की जांच करेंगे. जांच के दौरान पकड़े जाने पर टीम चालकों पर जुर्माना लगाने, उनके वाहनों को जब्त करने के साथ ही ट्रैफिक पुलिस की सहायता से एफआइआर दर्ज कराएगी.

परमिट से ज्यादा चल रहे ई-रिक्शा, जाम से मिलेगी मुक्ति

नगर के अपर नगर आयुक्त गिरिजा शंकर प्रसाद ने बताया कि मेन रोड में कुल 60 ई रिक्शा चालकों को परमिट दिया गया है. वहीं इस रूट पर ई-रिक्शा चालक परमिट की फ़ोटो कॉपी चिपका कर सड़क पर धड़ल्ले से चल रहे हैं. शहरवासियों को इसके कारण जाम की समस्या से जूझना पड़ता है. उन्होंने कहा कि अभियान के तहत ई-रिक्शा चालकों पर कार्रवाई कर शहर को जाम मुक्त करने का प्रयास किया जा सकेगा.

निगम कार्यालय का फिर होगा घेराव

मालूम हो कि आगामी 10 दिसंबर को ई-रिक्शा चालकों ने नगर निगम घेराव की बात कही है. ई-रिक्शा एसोसिएशन के अध्यक्ष असरफ खान ने नगर निगम के 10 दिसंबर को हजारों की संख्या में ई-रिक्शा चालक अल्बर्ट एक्का चौक से जुलूस की शक्ल में नगर निगम का घेराव करेंगे. निगम चालकों की मांग पर कोई ठोस विचार नहीं करता है तो मजबूरन ई-रिक्शा चालक उग्र आंदोलन करेंगे. उन्होंने कहा कि चालक एसोसिएशन को तमाम विपक्षी पार्टियां अपना समर्थन दे रही हैं.

कैसे पकड़े जाएंगे अवैध परमिट

सिटी मैनेजर सौरव कुमार ने बताया कि 60 ई-रिक्शा चालकों की सूची इंफोर्समेंट टीम को दे दी जाएगी. जिसमें ई रिक्शा चालकों के रजिस्ट्रेशन नंबर, वाहन नम्बर, ई-रिक्शा चालक का पता, मोबाइल नम्बर होगा. इस प्रकार आसानी से 60 ई रिक्शा चालकों की पहचान हो सकेगी. अवैध रूप से चल रहे ई-रिक्शा चालकों पर कार्रवाई की जा सकेगी. वर्तमान में 60 ई-रिक्शा चालकों को मेन रोड रूट पर परमिट दी गई है. फिर भी 500 से अधिक ई रिक्शा चल रहे है. इस अभियान में रांची पुलिस से मदद ली जाएगी.

विशेष अभियान चला कर होगा एफआइआऱ : ट्रैफिक डीएसपी

ट्रैफिक डीएसपी रंजीत लकड़ा ने पूरे मामले में कहा कि ट्रैफिक पुलिस पहले से ही इन ई-रिक्शा चालकों को परमिट के साथ चलने की सलाह देती रही है. अब जबकि निगम से इस बारे में बात हुई है, तो अब ऐसे अवैध ई-रिक्शा चालकों पर एफआइआर दर्ज कराने की प्रक्रिया भी शुरू की जाएगी. इसके लिए प्रशासन के तरफ से विशेष अभियान चलाया जाएगा.

इसे भी पढ़ें – 75 करोड़ मनरेगा राशि खर्च नहीं कर सकी सरकार, घटी एससी-एसटी कामगारों की संख्याः जेएमएम

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: