न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

हटाये गये मजदूरों को काम पर रखे डीवीसी प्रबंधन : राजू खान

79

Bermo(Bokaro) :  विस्‍थापित और स्‍थानीय मजदूरों को रोजगार देने की मांग पर टाइगर फोर्स के बैनर तले दो दिवसीय भूख हड़ताल शुरू किया गया. डीवीसी पावर प्‍लांट का निर्माण करने वाली कंपनी पावर मेक ने 125 विस्‍थापित और मजदूरों को हटा दिया है. भूख हड़ताल का नेतृत्‍व टाइगर फोर्स के जिला अध्‍यक्ष राजू खान एवं ताजुद्दीन अंसारी के द्वारा किया जा रहा है.

mi banner add

मजदूरों को काम से हटाकर उन्हें बेरोजगार कर दिया

नुक्कड़ सभा को संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष व ताजुद्दीन अंसारी ने कहा कि पावर मेक में वर्ष 2009 से 2018 तक स्थानीय एवं विस्थापित बेरोजगारों ने काम करके अपने जीवन का बहूमूल्य समय दिया है. अब वर्तमान में कंपनी प्रबंधन ने 125 वैसे मजदूरों को काम से हटाकर उन्हें बेरोजगार कर दिया है. उन्होंने कहा कि सभी हटाये गये मजदूरों को काम पर रखने को लेकर डीवीसी प्रबंधन से कई दफा वार्ता भी हुई थी. परंतु प्रबंधन की ओर से महज आश्वासन ही मिलता रहा.

पूर्व में हुआ था एक दिवसीय धरना

Related Posts

बकरी बाजार मैदान में कॉम्प्लेक्स बनाने के निर्णय को रद्द करने की मांग, AAP ने मेयर को सौंपा ज्ञापन

पार्टी ने मांग की कि उस मैदान को बच्चों के खेल के मैदान-पार्क के रूप में विकसित किया जाये

मांगों को लेकर 27 दिसंबर को एक दिवसीय धरना भी पावर प्लांट गेट के समक्ष दिया गया था. आंदोलन के बाद डीवीसी के डीजीएम पीके सिंह के साथ आयोजित वार्ता भी बेनतीजा रही थी. वार्ता विफल होने के बाद 2 जनवरी से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल किया जाना था, जो कि किसी कारणवश स्थगित कर दिया गया था. जिसकी तिथि बढ़कर 7 जनवरी कर दी गयी थी. आंदोलन को सफल बनाने में रंजीत पांडेय, बीरेंद्र सिंह, तारसेम सिंह, अमित सिंह, नवीन निषाद, विद्यासागर महतो, रघुनाथ मुर्मू, महताब आलम, उमेश उपाध्याय, अख्तर अली, तनवीर, शमीम अख्तर आदि की महत्वपूर्ण भूमिका रही.

इसे भी पढ़ें : कार्यक्रम में नहीं बुलाये जाने पर भड़के पार्षद, कहा- राजनीति कर रहे मेयर, डिप्टी मेयर

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: