न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ट्रेन में यात्रा के दौरान बिना बिल के खाना मिलने पर नहीं चुकाने होंगे उसके पैसे

446

Ranchi : अगर आप ट्रेन में सफर के दौरान खाना ऑर्डर करते हैं और खाने का बिल कैटरर नहीं देता है, तो आपका खाना फ्री होगा. रेल मंत्रालय ने ट्रेनों में मनमानी करनेवाले कैटरर्स पर लगाम लगाने के लिए नो बिल, फ्री फूड पॉलिसी की शुरुआत की है. इसके तहत खाने का बिल हर हाल में कैटरर को देना होगा. ऐसा नहीं करने पर आप बिल चुकाने के लिए बाध्य नहीं होंगे. वहीं, किसी भी तरह की परेशानी होने पर इसकी शिकायत टोल फ्री नंबर पर कर सकते हैं. गौरतलब है कि ट्रेन में सफर के दौरान पैसेंजर्स ने कई बार तय चार्ज से अधिक पैसे लेने की शिकायत दर्ज करायी थी.

इसे भी पढ़ें- रांची : सेंट्रल यूनिवर्सिटी के शिक्षक पर लगा यौन शोषण का आरोप, महिला आयोग में शिकायत दर्ज

रेट लिखना है अनिवार्य

कैटरिंग करनेवाली एजेंसी को सभी फूड आइटम्स के बॉक्स पर रेट लिखना अनिवार्य कर दिया गया है, ताकि पैसेंजर्स को पता चल सके कि किस आइटम के लिए कितना रेट है. ऐसा नहीं करनेवाले कैटरर का लाइसेंस रद्द करने का भी आदेश दिया गया है. इसके बावजूद रांची से खुलनेवाली ट्रेनों में कैटरर मनमानी कर रहे हैं. खाने की चीजों के बॉक्स पर रेट ही नहीं लगाया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें- कोयला घोटाला मामला : मुश्किलों में नवीन जिंदल, कोर्ट ने दिया अतिरिक्त आरोप तय करने का आदेश

टोल फ्री या एसएमएस से दर्ज करायें शिकायत

खाना देने के बाद कोई कैटरर बिल नहीं देता है, तो आप उसे किसी भी हाल में पेमेंट न करें. इसके अलावा टोल फ्री नंबर 1800111139 पर कॉल या 9971111139 पर एसएमएस करके शिकायत दर्ज करा सकते हैं. इसे लेकर जल्द ही ट्रेनों में रेलवे नोटिस भी लगायेगा, ताकि ट्रेन में सफर करनेवाले पैसेंजर्स को जानकारी मिल सके.

देशभर के सभी जोन के लिए यह आदेश लागू है. अगर कोई भी ट्रेन में कैटरिंग का बिल पैसेंजर को नहीं देता है, तो उसे पैसे मांगने का भी हक नहीं है. चूंकि बढ़ा हुआ चार्ज लेने की शिकायत के बाद पारदर्शिता लाने के लिए यह कदम उठाया गया है. इसके बाद भी कोई पैसे मांगता है या मिसबिहेव करता है, तो टोल फ्री नंबर पर शिकायत करें. संबंधित व्यक्ति पर कार्रवाई की जायेगी.
-युगराज, मैनेजर, आईआरसीटीसी, रांची

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: