न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दिन में गली-गली बेचते हैं खिलौने, रात को देते हैं चोरी की घटना को अंजाम

62

Ranchi: पुलिस की लाख कोशिश के बावजूद भी लगभग हर दिन राजधानी रांची में चोरी की घटनायें हो रही हैं. चोरी करने वाले दिन में रेकी करते हैं और रात में घटना को अंजाम देते हैं. पिछले दिनों गिरफ्तार हुए 10 चोरी के आरोपियों से पूछताछ के क्रम में खुलासा हुआ कि यह सभी चोर दिन में रेकी करने के लिए दुकान के बाहर या घर के बाहर खिलौने व बैलून बेचने के बहाने रेकी करते हैं. उसके बाद रात में सुनियोजित तरीके से चोरी की घटना को अंजाम देते हैं. रांची शहर के किसी ना किसी इलाके में हर दिन चोरी की घटनायें घट रही हैं. इसी दौरान चोरों ने बीती रात ओरमांझी में चार दुकानों को अपना निशाना बनाया. चोरों ने किराना दुकान से 50 हजार रुपये के साथ कई कीमती सामान चोरी कर लिये. वहीं चोरों ने तीन हार्डवेयर दुकान, एक मोबाइल दुकान और एक किराना दुकान का ताला भी तोड़ा था. लेकिन, चोरी करने में सफल नहीं हो पाये.

इसे भी पढ़ें: चतरा पत्रकार हत्‍याकांड का खुलासा, दो आरोपी गिरफ्तार

खिलौना बेचने के नाम पर करते थे रेकी

30 अक्टूबर की बीती देर रात रातू थाना पुलिस ने चोरी की योजना बना रहे ऐसे ही चोरों के एक गिरोह को पकड़ा. यह गिरोह दिन में रांची के मेन रोड में खिलौने बेचता था. कडरू मोड़ स्थित एक बड़े मॉल के सामने सोते थे. खिलौना बेचना इनका पेशा नहीं, बल्कि ये सब रेकी करने के लिए करते हैं. कभी ये खिलौने बेचते थे, कभी बैलून बेचकर रेकी करते थ. फिर चोरी की वारदात को अंजाम देते थे. शहर से सटे रातू चट्टी स्थित रामजी ज्वेलर्स में 30 अक्टूबर की रात चोरों के गिरोह के दस सदस्‍य चोरी करने घ़ुसे थे. जिन्हें पुलिस ने रंगेहाथ पकड़ लिया था. पकड़े गये सभी चोर उत्तरप्रदेश के झांसी जिला के रहने वाले थे. गिरफ्तार सभी चोरों का सरगना कुबड़ा नामक का शख्स है. गिरफ्तार सभी चोरों से जब पुलिस ने पूछताछ की तो बताया कि रातू चट्टी स्थित रामजी ज्वेलर्स की रेकी ने कई महीने से कर रखी थी. चोरों का सरगना कुबड़ा ने खिलौने बेचने के क्रम में ज्वेलरी दुकान की रेकी कर रखी थी. उसी ने गिरोह को सूचना दी थी कि दुकान में लाखों के जेवरात हैं. उसे पता था कि दुकान के पीछे चहारदीवारी है, जहां से दुकान में प्रवेश किया जा सकता है. प्लानिंग के तहत सभी चोर दो ऑटो बुक कर घटना को अंजाम देने के लिए पहुंचे थे.

इसे भी पढ़ें: जेल से निकलने के बाद कारोबारियों से रंगदारी मांग रहे हैं अपराधी

हाल के दिनों में हुई चोरी की घटनाएं

  • 5 अक्टूबर को सदर थाना क्षेत्र के बांध गाड़ी स्थित देवराज डिपार्टमेंट में रहने वाले आईसीआईसीआई बैंक के मैनेजर प्रदीप कुमार के घर में ताला तोड़कर चोर ने 5 लाख से अधिक मूल्य के जेवरात चोरी कर ली.
  • 8 अक्टूबर को जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के रहने वाले शिवनाथ सिंह के घर ताला तोड़कर लगभग 20 हजार के सामान चोरों ने चुरा लिये.
  • 8 अक्टूबर को जगन्नाथपुर के लठमार रोड नेपाली कॉलोनी स्थित रिटायर्ड डीएसपी फ्रांसिस टप्पो के घर चोरों ने ताला तोड़कर 15 हजार सहित करीब 5 लाख रुपये के जेवरात की चोरी कर ली.
  • 15 अक्टूबर की रात कोतवाली थाना क्षेत्र के सरस्वती मार्केट के उदय बुक स्टोर में चोरों ने छत काटकर 40 हजार रुपये की चोरी कर ली.
  • 30 अक्टूबर को ओरमांझी के इरबा में मोबाइल दुकान दुकान का रात में ताला तोड़कर चोरों ने लगभग 5 लाख रुपये की मोबाइल चोरी कर ली.
  • 1 नवंबर को चोरों ने ओरमांझी एक किराना दुकान में ताला तोड़कर लगभग 50 हजार रुपये की चोरी कर ली. वहीं चोरों ने चार दुकानों का ताला तोड़ दिया था लेकिन चोरी करने में सफल नहीं हो पाये.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: