न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दुमका : DDC ने दिया मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की स्थिति में सुधार लाने का निर्देश

डीडीसी कुमार ने कहा कि एएनसी (एंटी नेटल चेकअप) को 100 प्रतिशत सुनिश्चित करें.

104

Dumka : गुरुवार को समाहरणालय सभागार भवन में स्वास्थ्य विभाग एवं समाज कल्याण विभाग की बैठक संपन्न हुई. बैठक की अध्यक्षता डीडीसी वरूण कुमार ने की. बैठक को संबोधित करते हुए डीडीसी कुमार ने कहा कि एएनसी (एंटी नेटल चेकअप) को 100 प्रतिशत सुनिश्चित करें.

इसे भी पढ़ें : गांवों के 90 फीसदी लोग सरकार के नीति-निर्णय से नाराज, हल्‍ला बोलना होगा: सुदेश महतो

सभी गर्भवती महिलाओं की एएनसी जांच

hosp3

उन्होंने सभी एमओवाईसी को निर्देश दिया कि अपने स्तर से सभी सेंटर का प्रत्येक दिन निरीक्षण कर सेंटर वाईज मानिटरिंग सुनिश्चित करें. सभी गर्भवती महिलाओं की एएनसी जांच को सुनिश्चित करने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि यह जांच मातृ शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के लिए आवश्यक है. उन्होंने कहा कि एएनसी में हिमोगलोबिन, एचआईबी, आरएच, ब्लड ग्रुप, सुगर, बीपी आदि की जांच की जाती है. जांच में महिलाओं को आवश्यक सलाह भी दी जाती है. उन्होंने एएनसी के छुटे लाभार्थी को दूसरे दिन सहिया एवं एएनएम के द्वारा इसे पूरा करवाने को सभी एमओवाईसी को निर्देश दिया. सेंटर के डॉक्टरों को एक साथ टैगिंग करने एवं सभी सेंटर से प्रत्येक दिन का रिपोर्ट लेने का निर्देश दिया.

इसे भी पढ़ें : मानव तस्करी की शिकार पहाड़िया बच्ची की मौत की हो उच्चस्तरीय जांच: झाविमो

उन्होंने कहा कि एनीमिया से ग्रसित मरीजों का सूची प्रखंड वाईज सहिया और सेविका के माध्यम से प्राप्त करने एवं सही ईलाज से ही एनीमिया के क्षेत्र में सफलता मिल पायेग. लिंगनुपात की तस्वीर बेहतर करने के उपायों पर कार्य करने के लिए प्रेरित किया. मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की स्थिति में सुधार लाने का निर्देश सभी सीडीपीओ को दिया.

आंगनबाड़ी केन्द्र के ग्रोथ चार्ट की जांच

उन्होंने ने कहा कि सीडीपीओ सहिया एवं सेविका को फिल्ड रिव्यू कराये. तभी इस योजना का लाभ लोग ले पायेंगे. उन्होंने आंगनबाड़ी केन्द्र के ग्रोथ चार्ट की जांच करने का निर्देश सीडीपीओ को दिया. आंगनबाड़ी केन्द्र प्रत्येक दिन नहीं खुल रहा है, वैसे में केन्द्र के सेविका-सहायिका से स्पष्टीकरण करने का निर्देश. उन्होंने केन्द्र प्रत्येक दिन खुले रहने एवं उपस्थित बच्चों का गोथ्र चार्ट तैयार करने को सीडीपीओं को सुनिश्चित करने का निर्देश दिया.

इसे भी पढ़ें : शिकारीपाड़ा थाना के एएसआई समेत पांच पुलिसकर्मी निलंबित

बैठक में सिविल सर्जन दुमका, प्रखंड स्तर के सीडीपीओ, एमओवाईसी एवं संबंधित विभाग के पदाधिकारी उपस्थित थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: