न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दुमका : बाल विवाह उन्मूलन को लेकर छात्राओं ने निकाली जागरुकता रैली

यह रैली प्रखंड परिसर से शुरु होकर थाना, जामा चौक होते हुए कार्यक्रम स्थल पर पहुंची.

148

Dumka : जिले के जामा प्रखंड मुख्यालय परिसर में सिनी संस्था के द्वारा बाल विवाह उन्मूलन हेतू एक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया. कार्यक्रम की शुरूआत जागरूकता रैली निकाल कर की गई. जिसमें बड़ी संख्या में स्कूल की छात्राएं उपस्थित थी. यह रैली प्रखंड परिसर से शुरु होकर थाना, जामा चौक होते हुए कार्यक्रम स्थल पर पहुंची.

इसे भी पढ़ेंःबिना VC के ही चलाया जा रहा सरला बिरला और YBN यूनिवर्सिटी

लोगों को बाल-विवाह के प्रति करना है जागरुक : डीडीसी

कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि डीडीसी वरूण रंजन ने छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि बाल विवाह के दुष्प्रभावों पर जागरूकता पैदा करने के लिए मासव्यापी अभियान शुरु किया जा रहा है. यह अभियान मुख्य रुप से लोगों को बाल-विवाह के प्रति जागरुक करेगा. उन्होंने कहा कि बाल विवाह एक बड़ी समस्या है और इसे खत्म करने में समाज का योगदान महत्वपूर्ण है. आस पास में किसी की शादी कम उम्र में होती हैं, तो तुरंत गांव के प्रधान, मुखिया थाना प्रभारी, बीडीओ आदि को सूचित करने का निर्देश दिया.

इसे भी पढ़ेंःकेंद्र और राज्य सरकार हर मोर्चे पर रही है विफल : दीपांकर भट्टाचार्य

शादी कम उम्र में नहीं होने देंगे : बीडीओ

इस अवसर पर बीडीओ साधुचरण देवगम ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी को एक शपथ दिलायी कि कम उम्र में शादी नहीं करेंगे और आस-पास में किसी का शादी कम उम्र में नहीं होने देंगे और इसकी जागरूकता को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचायेंगे. उन्होंने कहा समाजिक कुरितियों का जड़ है. बाल विवाह इससे अल्प व्यस्क में विवाह होने से बच्चों का शारिरीक मानसिक विकास कमजोर होता है. जिससे आसानी से रोगों से ग्रसित हो जाते हैं. प्रखंड के 10 पंचायत के 50 गांवो मे इस माह जागरूकता अभियान चलाया जायेगा.

इसे भी पढ़ेंःबेरोजगारों के साथ ठगी की कोशिश करने वालों पर क्यों ना हो कार्रवाई ?

आयोजन में उपस्थित अतिथि

इस अवसर पर प्रशिक्षु आइएएस शशि प्रकाश, बीडीओ साधुचरण देवगम, सीओ आलोक वरण केसरी, थाना प्रभारी संजय कुमार मालवीय, सीडीपीओ पूनम वर्मा, डिप्टी डायरेक्टर सिनी, शैलेन्द्र शर्मा, कार्यक्रम प्रबंधक संजीव तिवारी, आंगनबाड़ी सेविकाएं, स्वास्थ्य कर्मी और बड़ी संख्या में कस्तूरबा गांधी बालिका आवसीय विद्यालय जामा, कन्या मध्य विद्यालय जामा, बालक मध्य विद्यालय एवं दर्जनों विद्यालयो की छात्राएं उपस्थित थी।

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: