JharkhandRanchi

अनशन पर बैठे होमगार्ड जवानों की बिगड़ी तबीयत, रिम्स में कराया गया भर्ती

Ranchi :  राजधानी के बिरसा चौक के पास अनशन पर बैठे होमगार्ड के जवानों की तबियत गुरूवार को अचानक बिगड़ गई. इन जवानों के अनशन का 11वां दिन है और ये अपनी तीन सूत्री मांगों पर अड़े हुए हैं. वहीं तबियत बिगड़ने पर राष्ट्रीय मानवधिकार अपराध नियंत्रण संगठन के सुजीत उपाध्याय सहित कई अन्य लोगों ने होमगार्ड के जवानों को इलाज के लिए रिम्स में भर्ती करवाया. इस बारे में जवानों का कहना है प्रशासन को सूचना देने के बाद भी इलाज के लिये कोई पहल नहीं की गयी.

Sanjeevani

 21 जनवरी से बैठे है अनशन पर

MDLM

पारा शिक्षकों, मनरेगाकर्मियों और झासा (झारखंड प्रशासनिक सेवा संघ) के आंदोलनों से सरकार को निजात मिला तो अब होमगार्ड जवान नाराज हो गये हैं. तीन सूत्री मांगों पर वार्ता के लिए मुख्यमंत्री द्वारा नहीं बुलाये जाने से नाराज झारखंड होमगार्ड वेलफेयर एसोसिएशन के सदस्य 21 जनवरी से ही आमरण अनशन पर हैं.

एक फरवरी को एकजुट होने का किया है आह्वान

जानकारी के मुताबिक, होमगार्ड जवान पूरे राज्य से अपने जवानों का समर्थन इकट्ठा कर रहे हैं और एक फरवरी को एकजुट होने का आह्वान किया है. झारखंड राज्य के होमगार्ड जवान एक फरवरी को बिरसा चौक पर होमगार्ड डीजी श्री विभूति भूषण प्रधान का पुतला दहन करेंगे.

ये हैं इनकी मांगें

. झारखंड राज्य के सभी होमगार्ड जवानों की ड्यूटी नियमित की जाये.

. सर्वोच्च न्यायालय और भारत सरकार के दिशा-निर्देश के आलोक में झारखंड के होमगार्ड जवानों को भी समान काम के बदले समान वेतन दिया जाये.

. होमगार्ड मुख्यालय से बिना स्पष्टीकरण पूछे सेवामुक्त किये गये जवानों को सेवा में वापस लाया जाये.

इसे भी पढ़ें – सीएम के जवाब के बावजूद घटिया मोबाइल बांटने के मामले में सीएस को देना होगा जवाब

 

Related Articles

Back to top button