न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अनुबंध प्राध्‍यापकों को जल्‍द मिलेगा बकाया मानदेय, कुलपति से मिलकर संघ ने ली जानकारी

80

Ranchi: रांची विश्वविद्यालय अनुबंध प्राध्यापक संघ के प्रदेश अध्यक्ष निरंजन कुमार महतो की अगुवाई में सोमवार को रांची विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. रमेश कुमार पाण्डेय से शिक्षकों ने मुलाकात किया. इस क्रम में संघ के सदस्यों ने अपनी समस्याओं से कुलपति को अवगत कराते हुये अविलम्ब बकाया मानदेय भुगतान की मांग की.

इसे भी पढ़ेंःदिवाली में 10 बजे रात के बाद पटाखा जलाया तो एक लाख रुपये का लगेगा जुर्माना 

कुलपति ने कहा मानदेय भुगतान की प्रकिया जारी, जल्‍द होगा भुगतान

इस पर कुलपति ने कहा कि बकाया मानदेय भुगतान की प्रक्रिया अग्रसारित कर दी गयी है. उन्होंने तत्काल कुलसचिव की अगुवाई में एफओ से मिलकर वेतन भुगतान से संबंधित जानकारियां लेने का आदेश दिया. कुलपति के आदेश पर कुलसचिव ने उपस्थित सहायक प्राध्यापकों के साथ एफओ से मुलाकात कर मानदेय भुगतान से संबंधित सारी जानकारियां ली. एफओ ने कहा कि मानदेय राशि भुगतान की प्रक्रिया की जा रही है. जिन-जिन पीजी विभागों एवं महाविद्यालय के द्वारा बिल विश्वविद्यालय को भेजा जा चुका है उन लोगों का मानदेय भुगतान जल्द से जल्द कर दिया जायेगा. ज्ञात हो कि जनवरी माह से लेकर सितंबर माह तक शिक्षकों का मानदेय नहीं मिला है. इसको लेकर शिक्षकों में काफी उदासीनता है. इसी संदर्भ में सोमवार को शिक्षकों ने कुलपति से मिलकर ज्ञापन भी सौंपा. इस अवसर पर झारखंड अनुबंध सहायक प्राध्यापक संघ की ओर से कुलपति को मानदेय भुगतान से संबंधित मांग पत्र भी सौंपा गया.

इसे भी पढ़ें : नाबालिग दे रहे हैं लूट, हत्या, दुष्कर्म जैसी घटनाओं को अंजाम, तीन सालों में बढ़े बाल कैदी

इस भेंटवार्ता में मुख्य रुप से झारखंड विश्वविद्यालय अनुबंध प्राध्यापक संघ के डॉ. रिझू नायक, बीरेन्द्र कुमार महतो, मनीष कुमार, पुष्पा कुमारी, राहुल मिश्रा, कौशर, मिथलेश रंजन, चन्द्र किशोर केरकेट्टा, मीना पूर्ती, जितेन्द्र कुमार, सुषमा कुजूर, ममता कुमारी, चांदनी कुमारी, ब्रजगोपाल पॉल, एम गालिब, सुलक्षणा निशा लोहरा, रामजी साहु, डॉ जिनत प्रवीर, जैनेन्द्र कुमार, राजकुमार पाणिग्रही, शशि विनय भगत के अलावा अन्य सहायक प्राध्यापक शामिल थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: