न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जरूरत से ज्यादा बिजली लेने पर लगेगी दोगुनी पेनाल्टी, ग्रिड डिसिप्लीन पर केंद्र सख्त

राज्यों को तालमेल बिठाने का निर्देश, केंद्रीय विद्युत नियामक आयोग खुद करेगा मॉनिटिरिंग

23

Ranchi: जरूरत से अधिक बिजली लेने पर अब दोगुनी पेनाल्टी देनी होगी. केंद्र ने ग्रिड डिसिप्लीन बनाये रखने के लिए झारखंड सहित अन्य राज्यों के स्टेट लोड डिस्पैच सेंटर को निर्देश दिया है. इसमें कहा गया है कि 0.02 हर्ट्ज फ्रीक्वेंसी बिजली लेने पर 28.12 रुपये प्रति यूनिट की दर से चार्ज लगेगा. इससे पहले पेनाल्टी के रूप में 16. 50 रुपये प्रति यूनिट देना पड़ता था. केंद्रीय विद्युत नियामक आयोग ने इस विषय को लेकर देश के चारों ग्रिडों के अफसरों को पत्र भेज दिया है. केंद्रीय विद्युत नियामक आयोग खुद इसकी मॉनिटिरिंग करेगा. केंद्र ने देश के चारों ग्रिडों में एक समान फ्रीक्वेंसी करने का निर्देश दिया है. इसके मानक भी निर्धारित कर दिये गये हैं. एसएलडीसी(स्टेट लोड डिस्पैच सेंटर) और आरएलडीसी( रिजनल लोड डिस्पैच सेंटर) को तालमेल बिठाने का भी निर्देश दिया है.

क्यों बनती है ब्लैक आउट की स्थिति

लोड बढ़ाने से हमेशा ग्रिड फेल होने की आशंका बनी रहती है. जरूरत से ज्यादा बिजली लेने पर ग्रिड ट्रिप हो सकता है. हर राज्य को बिजली के लिए एलोकेशन(निर्धारित बिजली मेगावाट में) मिलता है. इससे अधिक बिजली लेने का प्रावधान नहीं है. पत्र में यह भी उल्लेख किया गया है कि पावर फेल होने का सबसे बड़ा कारण यह भी है कि एक बार में 500 मिलियन यूनिट बिजली ले लेने पर ग्रिड फेल होने की आशंका बनी रहती है. 31 जुलाई 2012 को हुए ब्लैक आउट का सबसे बड़ा कारण यह भी रहा था. पूर्वी ग्रिड से बिजली की आपूर्ति ठप हो गई थी. उस समय आगरा (यूपी) में जरूरत से अधिक बिजली ले ली गई थी.

30 सेकेंड का ही मिलता है समय

अगर किसी भी राज्य ने जरूरत से अधिक बिजली ले ली तो लोड वापस करने के लिये सिर्फ 30 सेंकेंड का ही समय मिलता है. अगर 30 सेकेंड के अंदर बिजली वापस नहीं की गई तो ग्रिड ठप हो सकता है. छत्तीसगढ़, पंजाब, दिल्ली, हरियाणा और आंध्र प्रदेश में यह व्यवस्था की गई है. लेकिन यह व्यवस्था झारखंड में नहीं हो पाई है. झारखंड में ग्रिड डिसिप्लीन मेनटेन करने के लिए अब बाउंड्री मीटर, ट्रांसफॉरमर और फीडर मीटर पूरी तरह से नहीं लग पाया है. ट्रांसमिशन लाइन में भी टी प्वाइंट नहीं बन पाया है.

कितनी फ्रीक्वेंसी पर कितना है पेनाल्टी चार्ज

फ्रीक्वेंसी( हर्ट्ज में)             यूआइ चार्ज(रुपये प्रति यूनिट)

49.74                                                     5.34

49.72                                                     5.62

49.70                                                     5.90

49.68                                                     6.18

49.66                                                     6.46

49.64                                                     6.75

49.62                                                     7.03

49.60                                                     7.31

49.58                                                     7.59

49.56                                                     7.87

49.54                                                     8.19

49.52                                                     8.43

49.50                                                     8.71

इसे भी पढ़ें – राहुल का सवाल : प्रधानमंत्री कहते हैं, वह हिंदू हैं, लेकिन हिंदुत्व के बारे में नहीं जानते, वह कैसे हिंदू हैं ?

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: