न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मई में मिलेगी रांची विश्वविद्यालय के शिक्षकों को पांचवें व छठे वेतनमान की बकाया राशि

कुलपति से मिले संघ के सदस्य,  मिला आश्वासन

1,342

Ranchi:  रांची विश्वविद्यालय विभाग शिक्षक संघ और अखिल भारतीय राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ की ओर से सोमवार को कुलपति डॉ रमेश कुमार पांडे को ज्ञापन सौंपा गया. जिसमें दोनों संघों की ओर से तीन सूत्री मांग की गयी. जिसमें पांचवें और छठे वेतनमान की बकाया राशि के भुगतान की मांग की गयी.

कुलपति डॉ रमेश कुमार पांडे ने शिक्षकों को आश्वस्त करते हुए कहा पांचवें और छठे वेतनमान की बकाया राशि का भुगतान मई तक कर दिया जाएगा.

उन्होंने कहा कि पंचम वेतनमान की बकाया की गणना करके अभिषद से पारित कराकर राज्य सरकार को मई तक भेज दिया जायेगा. जिसके बाद तुरंत बकाया भुगतान कर दिया जायेगा. जिसमें पांचवें वेतनमान के तहत 37 फीसदी और छठे वेतनमान में प्रोन्नत शिक्षकों के एरियर देने की बात कुलपति ने की.

इस दौरान शिक्षकों की ओर से संघ के लिए कार्यालय देने की बात हुई. जिसपर कुलपति ने आश्वस्त करते हुए कहा कि मई तक संघ के लिए कार्यालय की व्यवस्थ्या स्नातकोत्तर हिंदी विभाग में कर दी जायेगी.

इसे भी पढ़ेंः लोकसभा चुनाव झारखंड : राजनीतिक दलों के चुनाव घोषणा पत्र में जन मुद्दों को कितना मिला स्थान,  एक आकलन

गैर अवकासीय संवर्ग के लिए अधिसूचना निकाली जायेगी

वहीं इस दौरान संघ की ओर से गैर अवकासीय संवर्ग की मांग पर कुलपति ने कहा कि इस संबंध में राज्य के सभी विवि की ओर से कुलाधिपति से मिलकर अनुमोदन प्राप्त करना होगा. जिसके बाद इसकी अधिसूचना निकाली जायेगी.

SMILE

उन्होंने कहा कि इस साल तक कार्य हो जाने की संभावना है. संघ की वार्ता के दौरान प्रति कुलपति डॉ कामिनी कुमार भी मौजूद थीं. उल्लेखनीय है कि शिक्षक लंबे समय से पांचवें और छठे वेतनमान के बकाया भुगतान की मांग को लेकर प्रयासरत हैं.

इसे भी पढ़ेंः पीएम मोदी ने कहा, दीदी,आपकी जमीन खिसक चुकी है, टीएमसी के 40 विधायक भाजपा के संपर्क में हैं

मौके पर ये लोग थे उपस्थ्ति

मौके पर विश्वविद्यालय शिक्षक संघ के अध्यक्ष डॉ हरिओम पाण्डेय, महासचिव सह सीनेट सदस्य डॉ एलके कुंदन, डॉ राजकुमार, डॉ अशोक कुमार चैधरी, डॉ एसएन मिश्रा, डॉ ब्रजेश कुमार, सुबिमल मुखोपाध्याय, डॉ अमर कुमार चैधरी, डॉ एलजीएसएन शाहदेव, केके वर्मा समेत अन्य शिक्षक उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ेंः झारखंड :  चतरा, पलामू और लोहरदगा सीट पर लगभग 63 प्रतिशत मतदान कर वोटरों ने नक्सल आतंक को नकारा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: