न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों के कारण समूची व्यवस्था ‘धनिक तंत्र’ में तब्दील: येचुरी

मोदी सरकार में बढ़ी आर्थिक असमानता

82

New Delhi: माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी ने देश में लगातार बढ़ती आर्थिक असमानता पर चिंता व्यक्त करते हुए अमीर और गरीब के बीच बढ़ती खाई के लिये मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराया है. येचुरी ने देश की आधी से अधिक संपदा एक प्रतिशत धनी लोगों के पास होने का खुलासा करने वाली हाल ही में जारी हुई रिपोर्ट का हवाला देते हुए मंगलवार को कहा कि सरकार की गलत आर्थिक नीतियों के कारण समूची व्यवस्था ‘धनिक तंत्र’ में तब्दील हो गयी है.

इसे भी पढ़ेंःJPSC के सिलेबस में बड़े बदलाव की तैयारीः पहले मेंस से ऑप्सनल हटा- सीसेट रद्द हुआ, फिलहाल मेंस में जेनरल नॉलेज का पेपर

अमीरों की है मोदी सरकार

केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, देश के सर्वाधिक धनी लोगों की संख्या, देश की आबादी में हिस्सेदारी 10 प्रतिशत है और उनके पास कुल राष्ट्रीय संपदा का लगभग 77 प्रतिशत हिस्सा है. रिपोर्ट के हवाले से येचुरी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘देश की 60 प्रतिशत आबादी के पास सिर्फ 4.7 प्रतिशत संपदा है. मोदी राज में गरीब लगातार और अधिक गरीब हो रहे हैं.’’

इसे भी पढ़ेंःबकोरिया कांडः पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने डीजीपी को हटाने की मांग की

उन्होंने कहा ‘‘देश के सर्वाधिक धनी, एक प्रतिशत लोग 51.1 प्रतिशत संपदा के मालिक हैं. पिछले चाल साल में इनकी संपत्ति में इजाफा ही हुआ है.’’ येचुरी ने आर्थिक असमानता के लिये मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुये कहा ‘‘मोदी सरकार सिर्फ अमीरों के लिये है और बाकी सभी के लिये उसके पास सिर्फ जुमले हैं.’’

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: