न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सरदार पटेल की दूरदर्शी रणनीति की वजह से आज पूरे देश में दिख रही है एकता और अखंडता : डॉ रमेश कुमार पांडेय

सरदार पटेल की जयंती पर रांची विश्वविद्यालय में मना राष्ट्रीय एकता दिवस

33

Ranchi : रांची विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा बुधवार को आर्यभट्ट ऑडिटोरियम में भारत रत्न से सम्मानित एवं पूर्व गृहमंत्री लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती को “राष्ट्रीय एकता दिवस” के रूप में मनाया गया. कार्यक्रम का उद्घाटन सरदार पटेल की तस्वीर पर रांची विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ रमेश कुमार पांडेय, प्रतिकुलपति डॉ कामिनी कुमार, वित्तीय परामर्शी सुबिमल मुखोपाध्याय, कुलसचिव डॉ अमर कुमार चौधरी आदि पदाधिकारियों ने माल्यार्पण और पुष्पांजलि के पश्चात दीप प्रज्वलित कर किया. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रांची विश्वविद्यालय के कुलपति ने कहा कि लौह पुरुष सरदार पटेल का कृतित्व और व्यक्तित्व आज भी प्रासंगिक है. उन्होंने कहा कि आज संपूर्ण देश में एकता एवं अखंडता दिखाई दे रही है, इसके पीछे सरदार पटेल की दूरदर्शी रणनीति एवं कार्य है. उन्होंने कहा कि सरदार पटेल ने जाति, धर्म, पंथ, भाषा, भेद-भाव से ऊपर उठकर राष्ट्रीय एकता के लिए अपना संपूर्ण जीवन समर्पित किया. कुलपति ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी शिक्षकों एवं छात्रों से देश की एकता को अक्षुण्ण रखने में अपना महत्वपूर्ण योगदान देने का आह्वान किया.

इसे भी पढ़ें- आरयू के पत्रकारिता विभाग को जल्दी मिलेगा अपना भवन, 2.89 करोड़ रुपये की लागत होगा निर्माण

सरदार पटेल का योगदान अविस्मरणीय : डॉ कामिनी कुमार

hosp3

प्रतिकुलपति डॉ कामिनी कुमार ने कहा कि भारत देश में सरदार पटेल का योगदान अविस्मरणीय एवं अनुकरणीय है. उन्होंने कहा कि हमें पटेल के बताये मार्गों पर चलकर देश की एकता के लिए रचनात्मक एवं सकारात्मक प्रयास करने की दिशा में सोचना होगा. कार्यक्रम का विषय प्रवेश कराते हुए कुलसचिव डॉ अमर कुमार चौधरी ने कहा कि लौह पुरुष राष्ट्रीय एकता के महानायक रहे हैं. उन्होंने कहा कि भारत की 560 छोटी-छोटी रियासतों का एकीकरण कर पटेल ने भारत को एक करने का कार्य किया. कार्यक्रम में कुलपति डॉ रमेश कुमार पांडेय ने सभी को राष्ट्रीय एकता की शपथ दिलायी. कार्यक्रम में स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप में महत्वपूर्ण कार्य करनेवाले दो स्वयंसेवक सोनू कुमार ठाकुर और अमृतेश कुमार को कुलपति ने प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया.

सरदार पटेल की दूरदर्शी रणनीति की वजह से आज पूरे देश में दिख रही है एकता और अखंडता : डॉ रमेश कुमार पांडेय

इसे भी पढ़ें- राशि आवंटन के बाद भी नहीं बना गुमला का मॉडर्न कॉलेज

कार्यक्रम को वित्तीय परामर्शी सुबिमल मुखोपाध्याय, सीसीडीसी डॉ लाल गिरिजा शंकर नाथ शाहदेव, डीएसडब्ल्यू डॉ पीके वर्मा ने भी संबोधित किया. कार्यक्रम का संचालन स्नातकोत्तर हिंदी विभाग की कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ कुमुद कला मेहता ने किया और धन्यवाद ज्ञापन एनएसएस के कार्यक्रम समन्वयक डॉ ब्रजेश कुमार ने किया. कार्यक्रम में मानविकी संकायाध्यक्ष डॉ सरस्वती मिश्रा, डॉ उदय कुमार, डॉ प्रीतम कुमार, डॉ विश्वरूप मुखर्जी, डॉ हरिओम पांडेय, डॉ निवेदिता सरकार, डॉ मुकुंद चंद्र मेहता, डॉ पीके सिंह, डॉ अरुण कुमार, डॉ अजय सिंह, डॉ सीमा केसरी, डॉ स्मृति सिंह, डॉ नाजिया सहित कई शिक्षक उपस्थित रहे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: