Jamshedpur

नशे में धुत अशफाक ने सारिक के साथ मिल लगातार दिया था चार आपराधिक घटनाओं को अंजाम

बीस दिन पहले ही जेल से आया था बाहर,  मानगो चाकूबाजी में मारे गए अरविंद से थी पहचान, अशफाक का साथी सारिक भी  हुआ गिरफ्तार, पुलिस ने भेजा जेल

Jamshedpur : मानगो गोलचक्कर के पास शराब दुकान पर विवाद में अरविंद कुमार सिंह की चाकू घोंपकर हत्या करने के मामले में पुलिस ने अशफाक के साथी सारिक को भी गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस की पूछताछ में यह खुलासा हुआ है कि दोनों ने मंगलवार को एक के बाद एक चार आपराधिक घटनाओं को अंजाम दिया था. इसमें जुबली पार्क से बाइक चोरी के अलावा कदमा में मोबाइल छिनतई और साकची कब्रिस्तान के पास बिरसानगर के समीर त्रिपाठी को चाकू मारकर घायल करने की घटना शामिल थी. उसके बाद मानगो में अरविंद को चाकू मारने की घटना घटी. पुलिस ने घटना में प्रयुक्त चाकू के अलावा कदमा से छीनी गई मोबाइल और जुबली पार्क से चोरी की गई बाइक दोनों की निशानदेही पर बरामद की है. यह जानकारी एसएसपी डॉ एम तमिल वानन ने पत्रकारों को दी. मौके पर सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट भी उपस्थित थे. पुलिस के हत्थे चढ़े अशफाक का पूर्व में अपराधिक इतिहास रहा है. वह चोरी और छिनतई जैसे मामलों में पहले भी जेल जा चुका है.

अरविंद को  पहले से जानता था अशफाक

जांच में यह बात सामने आई है कि वह अरविंद को पहले से जानता था. अशफाक जब अपने साथी सारीक के साथ शराब दुकान पहुंचा तो वहां अरविंद पहले से अपने दोस्त के साथ मौजूद था. अशफाक ने अरविंद से शराब पीने के लिए पैसे मांगे.  इसपर अरविंद ने उसे सीधा जवाब नहीं दिया. इसी को लेकर शुरू हुआ विवाद मारपीट में तब्दील हो गया. उसी बीच अशफाक ने अरविंद पर चाकू से हमला कर दिया. इसमें उसकी मौत हो गई थी. इस हत्याकांड सहित चारों अपराधिक घटनाओं में अशफाक और सारिक की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने दोनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

advt

इसे भी पढ़ें- मानगो में चाकू घोंपकर हत्या करने में दो गिरफ्तार, 20 घंटे में पुलिस ने किया खुलासा

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: