BusinessNational

डॉ मनमोहन सिंह ने दिया जीएसटी काउंसिल को चेंजमेकर ऑफ द ईयर अवार्ड , जेटली ने रिसीव किया

NewDelhi : पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह ने मीडिया ग्रुप हिन्दू बिजनेस लाइन द्वारा आयोजित चेंजमेकर अवॉर्ड्स में जीएसटी काउंसिल को चेंजमेकर ऑफ द ईयर अवार्ड  प्रदान किया. बता दें कि वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बतौर जीएसटी काउंसिल चेयरमैन इस अवॉर्ड को रिसीव किया. पूर्व पीएम डॉ मनमोहन सिंह इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे. जान लें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जीएसटी को लागू करने के तरीके पर बेहद हमलावर रहे हैं. राहुल गांधी जीएसटी की तुलना गब्बर सिंह टैक्स से कर चुके हैं. ऐसे में डॉ मनमोहन सिंह द्वारा हिन्दू बिजनेस लाइन ओर से आयेाजित कार्यक्रम में जेटली को अवॉर्ड प्रदान करना चर्चा का विषय रहा. 10 नवंबर 2017 को राहुल गांधी ने कहा था कि वे देश में गब्बर सिंह टैक्स को थोपने नहीं देंगे. उन्होंने यह बात तब कही थी जब वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता वाली जीएसटी काउंसिल ने 177 चीजों से जीएसटी की दरें कम कर दी थी.

इसे भी पढ़ेंः छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम रमन सिंह के दामाद पर 50 करोड़ के घोटाले का मामला दर्ज

जीएसटी को पूरे देश में सफलतापूर्वक लागू किया गया

जीएसटी काउंसिल को यह  अवॉर्ड वन नेशन वन टैक्स की दिशा में काम करने के लिए दिया गया है. बता दें कि जीएसटी काउंसिल संघवाद के सिद्धांतों पर काम करते हुए अलग-अलग राजनीतिक दलों को एक छतरी के नीचे लायी और जीएसटी को पूरे देश में सफलतापूर्वक लागू करवाया. जीएसटी काउंसिल की कामयाबी का सबसे अच्छा उदाहरण यह रहा कि इसे विवादित मुद्दों को सुलझाने के लिए कभी भी वोटिंग का सहारा नहीं लेना पड़ा. इस काउंसिल के सामने विवाद या असहमति के जितने भी मुद्दे आये सभी सदस्यों ने मिल बैठकर ही इसका समाधान किया.  जीएसटी का विचार सबसे पहले यूपीए सरकार के दौरान ही सामने आया था.

Sanjeevani
इसे भी पढ़ेंः अनिल अंबानी ने 19 मार्च तक 453 करोड़ रुपये एरिक्सन कंपनी को नहीं दिये तो जेल जाना पड़ेगा

Related Articles

Back to top button