न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

डॉ ब्रजेश व सोरेन महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय के प्रथम कोर्ट के सदस्य बनाये गये 

दोनों का चयन प्रथम कोर्ट के लिए मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावेडकर की ओर से किया गया.

70

Ranchi :  महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय के प्रथम कोर्ट के लिए राज्य से डॉ ब्रजेश कुमार को नामित किया गया है. डॉ ब्रजेश वर्तमान में रांची विश्वविद्यालय के कार्यक्रम समन्वयक, राज्य एनएसएस नोडल पदाधिकारी और डोरंडा कॉलेज में भौतिकी विभाग के सहायक प्राध्यापक है. वहीं रांची के सामाजिक कार्यकर्ता एडवर्ड सोरेन को भी प्रथम कोर्ट का सदस्य बनाया गया है. दोनों का चयन प्रथम कोर्ट के लिए मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावेडकर की ओर से किया गया. आने वाले तीन सालों तक दोनों महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय के प्रथम कोर्ट के सदस्य रहेंगे.

बता दें कि महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय मोतिहारी, बिहार में स्थित है. सदस्‍़यों का चयन केंद्रीय विश्वविद्यालय अधिनियम 2009 के धारा 44 के तहत किया गया. इस अधिनियम के तहत प्रथम कोर्ट की बैठक कुलाधिपति करते हैं. वहीं विश्वविद्यालय के कुलसचिव कोर्ट के सदस्य सचिव होते हैं.

इसे भी पढ़ें अनुराग गुप्ता के मामले में झारखंड हाइकोर्ट ने चुनाव आयोग से मांगा जवाब, 25 अप्रैल को होगी अगली…

देश भर से 31 शिक्षकों का चयन किया गयाा

मानव संसाधन विभाग की ओर से देश भर के 31 शिक्षाविदों का चयन महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय के प्रथम कोर्ट के लिए किया गया है. दिल्ली, बिहार, उज्जैन, उत्तराखंड, ओड़िशा, पश्चिम बंगाल, मुंबई, तेलंगाना और अरुणाचल प्रदेश के शिक्षाविदों, पत्रकारों, पूर्व सांसदों और सामाजिक कार्यकर्ताओं को इसमें शामिल किया गया है. जिसमें बिहार के सामाजिक कार्यकर्ता और पत्रकार विकास आनंद, पूर्व सांसद राज्यसभा अनुसुईया यूकेयी और रांची के सामाजिक कार्यकर्ता एडवर्ड सोरेन को शामिल किया गया है.

डॉ महेश हैं कोर्ट के अध्यक्ष : महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय मोतिहारी के कुलपति डॉ महेश शर्मा प्रथम कोर्ट के अध्यक्ष हैं.  पूर्व कुलपति ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय दरभंगा के डॉ साकेत कुशवाहा, प्रसिद्ध लोक गायिका डॉ शारदा सिन्हा, जेएनयू के कुलसचिव डॉ प्रमोद कुमार सहित देश के कई नामचीन लोगों को कोर्ट के लिए नामित किया गया है.

डॉ  ब्रजेश कुमार का चयन प्रथम कोर्ट में होने से रांची विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ रमेश कुमार पांडेय, प्रतिकुलपति डॉ कामिनी कुमार,  एचआरडीसी निदेशक डॉ अशोक चैधरी, कुलसचिव डॉ अमर कुमार चौधरी, उप कुलसचिव डॉ प्रीतम कुमार, सहायक कुलसचिव डॉ राजीव कुमार सिंह समेत अन्य शिक्षाविदों ने बधाई दी है.

इसे भी पढ़ें धनबाद में कीर्ति आजाद का विरोध, कीर्ति ने कहा : जीना यहां, मरना यहां, इसके सिवा जाना कहां

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें.
आप अखबारों को हर दिन 5 रूपये देते हैं. टीवी न्यूज के पैसे देते हैं. हमें हर दिन 1 रूपये और महीने में 30 रूपये देकर हमारी मदद करें.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें.-

you're currently offline

%d bloggers like this: