न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

डॉ अजय बच रहे हैं जमशेदपुर सीट पर चुनाव लड़ने से, झामुमो की है सीट पर नजर, कुणाल या आस्तिक पर खेलेगा दांव

2,223

Pravin Kumar

Ranchi : लोकसभा चुनाव-2019 की तैयारी कमोबेश सभी राजनीतिक दलों ने शुरू कर दी है. कांग्रेस भी  महागठबंधन की नैया से लोकसभा चुनाव का महाभंवर पार करने का इरादा रख रही है. कोलेबिरा उपचुनाव परिणाम और प्रियंका गांधी के पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव पद पर आने से कांग्रेस पार्टी में भी नयी ऊर्जा का संचार दिख रहा है. कांग्रेस महागठबंधन में राज्य की 14 लोकसभा सीटों में से सात से नौ सीटों पर दावेदारी कर रही है. पार्टी अध्यक्ष डॉ. अजय भी खुद के लिए सुरक्षित लोकसभा सीट की तलाश कर रहे हैं. उनकी नजर जमशेदपुर के साथ-साथ धनबाद और हजारीबाग लोकसभा सीट पर भी है. अगर डॉ अजय जमशेदपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने से बचते हैं, तो झारखंड मुक्ति मोर्चा युवा विधायक कुणाल षाडंगी या आस्तिक पर अपना दांव खेलेगा. महागठबंधन में झामुमो पहले से ही जमशेदपुर सीट पर अपनी दावेदारी कर रहा है.

Trade Friends

जमशेदपुर सीट पर चुनाव लड़ने से क्यों बचना चाहते हैं डॉ अजय कुमार

सूत्रों के मुताबिक, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ अजय कुमार जमशेदपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने से बचना चाहते हैं. दबी जुबान यह भी कहा जा रहा है कि पुराने कांग्रेसी उन्हें अब तक प्रदेश अध्यक्ष स्वीकार नहीं कर पाये हैं. साथ ही, पार्टी में दूसरे दल से आये लोगों को तरजीह देने के कारण भी पुराने कांग्रेसियों में नाराजगी है. दूसरी ओर भाजपा की शहरी मतदाताओं में पकड़ उनके लिए सिरदर्द बनी हुई है. ऐसे में जमशेदपुर लोकसभा सीट से ज्यादा डॉ अजय धनबाद और हजारीबाग लोकसभा सीट पर नजर रख रहे हैं. वहीं, पार्टी सूत्रों के मुताबिक डॉ अजय कुमार झारखंड की राजनीति में बने रहना चाहते हैं, इसलिए कोल्हान की किसी सुरक्षित  विधानसभा सीट की तलाश खुद के लिए कर रहे हैं. उनकी नजर  ईचागढ़ विधानसभा सीट पर है. सूत्रों की मानें, तो महागठबंधन की सरकार बनती है, तो पार्टी की ओर से उपमुख्यमंत्री के रूप में डॉ अजय को सामने लाने की संभावना है.

कुणाल या आस्तिक को जमशेदपुर से उम्मीदवार बना सकता है झामुमो

झारखंड मुक्ति मोर्चा जमशेदपुर लोकसभा सीट के उम्मीदवार के रूप में आस्तिक महतो या कुणाल षाडंगी पर दांव खेल सकता है. सूत्रों के मुताबिक, कुणाल षाडंगी को ध्यान में रखते हुए जमशेदपुर लोकसभा सीट पर महागठबंधन में भी दावेदारी की जा रही है. कुणाल विधानसभा में तेजतर्रार युवा विधायक के रूप में अपनी पहचान बना चुके हैं. वहीं, आस्तिक महतो की जातीय वोट और ग्रामीण क्षेत्र पर पकड़ रहने के कारण उनकी दावेदारी सामाने आ रही है.

Related Posts

Giridih : #ACB ने गांवा थाना के दारोगा सतेन्द्र शर्मा को दो हजार घूस लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया

मारपीट के पांच महीने पुराने मामले की केस डायरी और रिम्स से इंजूरी रिपोर्ट मंगवाने के नाम पर दारोगा  महिला से कर रहे थे दो हजार की मांग

WH MART 1

झारखंड मुक्ति मोर्चा की दावेदारी के आधार

झारखंड मुक्ति मोर्चा जमशेदपुर लोकसभा सीट से चार बार चुनाव जीत चुका है. इसमें पार्टी उम्मीदवार के रूप में शैलेंद्र महतो दो बार 1989, 1991 में और सुनील महतो 2004 और सुनील महतो की हत्या के बाद हुए उपचुनाव में सुमन महतो 2007 में झारखंड मुक्ति मोर्चा उम्मीदवार के रूप में चुनाव जीत चुके हैं. 2011 में हुए उपचुनाव में डॉ अजय कुमार चुनाव जीते, उन्हें 2,76,582 वोट मिले. भाजपा के दिनेशआनंद गोस्वामी को 1,20,856 वोट मिले और पार्टी दूसरे स्थान पर रही. तीसरे स्थान पर झारखंड मुक्ति मोर्चा के उम्मीदवार सुधीर महतो रहे. उन्हें 115799 वोट मिले. वहीं, 2014 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को जीत मिली. पार्टी उम्मीदवार विद्युतवरण महतो को 464153 वोट मिले. दूसरे स्थान पर झाविमो उम्मीदवार के रूप डॉ अजय कुमार रहे. उन्हें 364277 वोट मिले. वहीं झारखंड मुक्ति मोर्चा उम्मीदवार को 138109 वोट मिले.

कब किस पार्टी ने जीती जमशेदपुर लोकसभा सीट

वर्षपार्टीउम्मीदवार
1957भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेसमोहिंद्र कुमार घोष
1962भारतीय कम्युनिस्ट पार्टीयू मिश्रा
1967भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेसएससी प्रसाद
1971भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेससरदार स्वर्ण सिंह
1977भारतीय लोक दलरुद्र प्रताप षाडंगी
1980जनता पार्टीरुद्र प्रताप षाडंगी
1984भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेसगोपेश्वर
1989झारखंड मुक्ति मोर्चाशैलेंद्र महतो
1991झारखंड मुक्ति मोर्चाशैलेंद्र महतो
1996भारतीय जनता पार्टीनीतीश भारद्वाज
1998भारतीय जनता पार्टीआभा महतो
1999भारतीय जनता पार्टीआभा महतो
2004झारखंड मुक्ति मोर्चासुनील महतो
2007झारखंड मुक्ति मोर्चासुमन महतो (उपचुनाव)
2009भारतीय जनता पार्टीअर्जुन मुंडा
2011झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक)डॉ अजय कुमार (उपचुनाव)
2014भारतीय जनता पार्टीविद्युतवरण महतो

इसे भी पढ़ें- दिखावा है मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के लिए लाभुक चयन की सरकारी प्रक्रिया, बीजेपी जिलाध्यक्ष…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like