न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

डॉ अजय को आदिवासी का ‘अ’ भी नहीं पता और वह बड़ी-बड़ी बातें कर रहे हैं : भाजपा

225

Ranchi : भाजपा ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार पर पलटवार किया है. भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने शनिवार को प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि डॉ अजय कुमार को आदिवासी शब्द का ‘अ’ भी नहीं पता है और वह बड़ी-बड़ी बातें कर रहे हैं. उनकी पार्टी कांग्रेस ने आजादी के बाद से आदिवासियों को वोट बैंक के रूप में प्रयोग किया था. सर्वप्रथम आदिवासी मंत्रालय का गठन स्वर्गीय पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार ने किया था. स्वर्गीय वाजपेयी की सरकार ने अनुसूचित जनजाति बहुल झारखंड और छत्तीसगढ़ अलग राज्य का गठन करके इन समूहों के विकास का रास्ता प्रशस्त किया था. झारखंड के शहीदों के गांव के विकास के लिए राज्य की रघुवर सरकार ने सकारात्मक कदम उठाये हैं. आज भगवान बिरसा मुंडा, नीलांबर-पीतांबर, सिदो-कान्हू, तिलका मांझी आदि के गांव को आदर्श ग्राम के रूप में विकसित किया जा रहा है. इसके अतिरिक्त अनुसूचित जनजाति समूह के लिए राज्य की रघुवर सरकार द्वारा जोहार योजना, तपस्विनी योजना, अनुदान में दो दुधारू गाय को देने की योजना, सरना-मसना स्थलों का सुंदरीकरण योजना, आदि, दर्जनों योजनाएं चल रही हैं. शाहदेव ने कहा कि अगर आदिवासियों की संख्या घटी, तो इसके लिए पूरी तरह से कांग्रेस जिम्मेदार है. कांग्रेस ने 60 वर्षों तक राज किया और आदिवासियों के लिए रोजगार का कोई नया रास्ता नहीं खोला, जिसके कारण इनका बड़ी संख्या में पलायन हुआ.

शाहदेव ने कहा कि अब रघुवर सरकार ने पहली बार नीलकंठ सिंह मुंडा की अध्यक्षता में घटती जनसंख्या पर स्टडी करके इसे रोकने के उपाय करने के लिए समिति बनायी है. शाहदेव ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने ही आदिवासियों का सबसे ज्यादा नुकसान किया और अब इसके नेता इनके हितैषी बनने का नाटक कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- भाजपा सत्ता और वोट की नहीं, देश के प्रति निष्ठा की राजनीति करती है : सीएम

3800 करोड़ लूटनेवाले और बंदरबांट करनेवाली कांग्रेस को माफी मांगनी चाहिए : दीनदयाल वर्णवाल

प्रेस वार्ता में प्रदेश प्रवक्ता दीनदयाल वर्णवाल ने कहा कि कांग्रेस आदिवासियों के कंधे पर रखकर बंदूक चलाना चाहती है. जब-जब कांग्रेस को मौका मिला, आदिवासियों को मूर्ख बनाया. आदिवासियों का उपयोग किया और इस झारखंड की संपदा को लूटने का काम किया. अब हताश और निराश कांग्रेस भारतीय जनता पार्टी पर दोष मढ़ बचना चाहती है, जिसे झारखंडी जनता खूब समझ रही है. वर्णवाल ने कहा कि मधु कोड़ा की सरकार बनाकर 3800 करोड़ की बंदरबांट और लूटपाट करनेवाली कांग्रेस को जवाब देना चाहिए कि वह 3800 करोड़ रुपये को कैसे कांग्रेस झारखंड को वापस दिलायेगी और इसके लिए वर्तमान अध्यक्ष डॉ अजय कुमार को झारखंड की सवा तीन करोड़ जनता से माफी मांगनी चाहिए. वर्णवाल ने यह भी कहा कि भारत रत्न स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी जी, भगवान बिरसा मुंडा, अमर शहीद सिदो-कान्हू जी के नाम पर कई योजनाओं का नामकरण करना विधानसभा में आदमकद मूर्ति लगाना स्वागतयोग्य कदम है. भारतीय जनता पार्टी की रघुवर सरकार को साधुवाद है.

इसे भी पढ़ें- सांसद महेश पोद्दार ने दिया रांची स्टेट कैपिटल रीजन विकसित करने का सुझाव

कांग्रेस-झामुमो की सरकार नहीं बना पायी स्थानीय और नियोजन नीति

भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष अशोक बड़ाईक ने कहा कि कांग्रेस-झामुमो की सरकार स्थानीय नीति-नियोजन नीति नहीं बना पायी, जिस कारण नियुक्तियों के अभाव में हजारों आदिवासी युवा बेरोजगार रह गये. उन्होंने कहा कि रघुवर दास की सरकार बनने के बाद तुरंत स्थानीय नीति-नियोजन नीति बनायी गयी, जिससे हजारों आदिवासी युवाओं को नौकरी मिली एवं कई विभागों की नियुक्तियों की प्रक्रिया चल रही है. बड़ाईक ने कहा कि कांग्रेस नेत्री गीताश्री उरांव ने शायद स्व. कार्तिक उरांव जी की लिखी पुस्तक “बीस वर्ष की काली रात” को नहीं पढ़ा है. उस पुस्तक में स्व. कार्तिक उरांव ने आदिवासियों के दोहरे लाभ का विरोध किया है, साथ ही आदिवासियों का धर्मांतरण का भी विरोध किया है. उनके सपनों को कांग्रेस ने कभी पूरा नहीं होने दिया. रघुवर दास की सरकार ने धर्म स्वतंत्र विधेयक बिल लागू कर बाबा कार्तिक उरांव के सपनों को पूरा करने का काम किया है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: