Crime NewsGiridihJharkhand

गिरिडीह में अंतरराज्यीय गिरोह के दर्जन भर अपराधी गिरफ्तार,शादी के नाम पर लड़कियों को बेचने का आरोप

Giridih: पुलिस ने दो नाबालिग लड़कियों को बेचने के षड्यंत्र के मामले का भंडाफोड़ करते हुए एक अंतरराज्यीय गिरोह के एक दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया है. मामले का खुलासा करते हुए जिले के एएसपी हारिश बिन जमां ने बताया कि पचंबा थाना की पुलिस को मिली इस सफलता में पुलिस ने एक नाबालिग लड़की को भी बरामद किया है.प्रेसवार्ता के दौरान एएसपी ने बताया कि पचंबा थाना क्षेत्र के नारोबाद गांव से तीन माह पहले एक नाबालिग लड़की का अपहरण किया गया था, जिसमें शुरुआती जांच में बेंगाबाद की मीना देवी की संलिप्तता सामने आई थी.पिछले दिनों ही पुलिस को सूचना मिली कि मीना देवी अपने एक सहयोगी गया की ललिता कुमारी और गया के ही बेलागंज निवासी शंकर चाौधरी के साथ मिलकर लड़की को राजस्थान में बेचने की योजना बना रहे हैं. लेकिन शंकर चाौधरी के साथ मामला नहीं बन पाने के कारण ललिता और मीना नाबालिग को गया में छोड़ वापस गिरिडीह लौट आए हैं. दोनों के गया लौटने की गुप्त सूचना मिलने के बाद पचंबा पुलिस ने भंडारीडीह स्थित होटल मीर में छापेमारी कर गया निवासी भोला दास समेत दोनों महिलाओं को धर दबोचा. पूछताछ में दोनों महिलाओं ने बताया कि पचंबा के शंशाकबेड़ा की रहने वाली एक अन्य नाबालिग लड़की को बेचने की तैयारी थी. इसी सूचना के आधार पर पचंबा थाना पुलिस ने शंशाकबेड़ा में छापेमारी कर नारोबाद की नाबालिग लड़की को बरामद किया.

इसे भी पढ़ें: देवघर में बाबा परिहस्त आपराधिक गिरोह के 11 अपराधी धराए

एएसपी ने बताया कि इन तीनों की निशानदेही पर ही इस गिरोह से जुड़े अन्य लोगों को भी गिरफ्तार किया गया है जिसमें गया के साथ गिरिडीह,मध्य प्रदेश और राजस्थान के भी रहने वाले हैं. यह गिरोह नाबालिग लड़कियों को शादी के नाम दिल्ली, राजस्थान,मध्य प्रदेश में बेचने का काम करता था. इस गिरोह में मीना देवी और ललिता कुमारी,जो स्वयं भी नाबालिग है,के अलावा गया के सैदपुर निवासी भोला कुमार दास, गिरिडीह के गांवा थाना क्षेत्र के बादीडीह गांव निवासी गोंविद साहु, गया के बेलागंज निवासी शंकर चाौधरी, मध्य प्रदेश का नीमच निवासी संदीप शर्मा, राजू शर्मा, हेमंत शर्मा, मुकेश गुर्ज्जर और राजस्थान के उदयपुर निवासी दलिचंद शर्मा, दिनेश शर्मा शामिल हैं.

Related Articles

Back to top button