न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

डबल मर्डर का खुलासा, BJP नेता ने सनकी प्रेमी को दी थी जान से मारने की धमकी

प्रेम प्रसंग में बाप बेटी की ली जान

542

डालटनगंज : पलामू जिले के चैनपुर थाना के शाहपुर में बीते 29 अगस्त की शाम भाजपा नेता सुरेन्द्र प्रसाद गुप्ता और उनकी बेटी शिल्पी उर्फ जया की हत्या कर दी गयी थी. हत्या का आरोप शिल्पी के प्रेमी राहुल कुमार पासवान उर्फ सूरज और उसके एक दोस्त ललित कुमार पासवान पर लगा था. पुलिस ने दोनों को गिरफतार कर लिया है. वहीं गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने मामले का खुलासा किया है.

मृतक सुरेन्द्र का ड्राइवर भी गिरफ्तार

इस दोहरे हत्याकांड में हत्यारों का सहयोग करने के आरोप में मृतक सुरेन्द्र के ड्राइवर राजेश कुमार पासवान को भी पुलिस ने डालटनगंज से गिरफ्तार कर लिया है. अभियुक्तों की गिरफ्तारी में गढ़वा की एसपी शिवानी तिवारी ने पलामू पुलिस को पूरा सहयोग दिया और त्वरित कार्रवाई करते हुए अपराधियों को धर दबोचा.

मैट्रीक परीक्षा के दौरान शिल्पी और राहुल की हुई थी दोस्ती

पलामू के पुलिस अधीक्षक इंद्रजीत माहथा ने शुक्रवार को घटना की जानकारी देते हुए बताया कि सुरेन्द्र गुप्ता की बेटी का राहुल के साथ पिछले कई दिनों से प्रेमप्रसंग था. एक बार दोनों घर से भाग भी गए थे. राहुल के अनुसार उन्होंने नगर उंटारी के समीप राजापहाड़ी मंदिर में शादी भी कर ली थी. एसपी ने बताया कि मृतक सुरेन्द्र गुप्ता मुख्य रूप से गढ़वा जिले के रहने वाले थे.  वहीं उनकी बेटी  शिल्पी ने गढ़वा से ही मैट्रिक की परीक्षा दी थी. उसी दौरान उसकी राहुल से जान पहचान हुई थी. जो कि कुछ वक्त के बाद प्यार में बदल गया.

ड्राइवर से थी राहुल की जान पहचान

उन्होंने बताया कि आरोपी राहुल ने यह स्वीकार किया कि उसने एक देशी लोडेड पिस्टल गढ़वा के बरडीहा से खरीदी थी. अरोपी ने बयान दिया कि सुरेन्द्र गुप्ता उसे कई बार मोबाईल पर धमका चुके थे कि अपनी हरकतों से बाज आओ नहीं तो बुरा अंजाम झेलना होगा. साथ ही राहुल ने यह भी बताया कि मृतक सुरेन्द्र गुप्ता के ड्राइवर से उसकी जान पहचान थी. सुरेन्द्र प्रसाद ने राहुल को समझाने और धमकाने के उदेश्य से ड्राइवर राजेश के मोबाईल फोन का इस्तेमाल भी किया था. घटना के दिन राजेश ने ही राहुल को सूचित किया था कि वह शाहपुर ना आए-खतरा हो सकता है. लेकिन सुरेन्द्र प्रसाद गुप्ता उसे बुला रहा था कि पिछली गलतियों की आकर माफी मांगो. राहुल को मृतक के पुत्र अभय ने भी फोन किया था कि ढंग से रहो नहीं तो नतीजा अच्छा नहीं होगा.

घटना वाली रात शिल्पी के घर गया था राहुल

इधर, राहुल का मन नहीं माना और अपने दोस्त ललित पासवान के साथ शाहपुर अपनी प्रेमिका के घर जा पहुंचा. वहां अचानक उसे आभास हुआ कि उसकी हत्या की जा सकती है तो बिना देर किये उसने अपनी देशी पिस्तौल से गोली चलाकर सुरेन्द्र गुप्ता की जान ले ली. सुरेन्द्र को गोली मारने के बाद  राहुल वहां से भागने लगा लेकिन इसी दौरान सीढ़ियों पर शिल्पी मिली और उसने राहुल पर गुस्सा दिखाते हुए कहा कि आज से मेरा तुम्हारे साथ कोई संबंध नहीं है. इस पर राहुल ने उस पर भी गोली चला दी. जिससे की उसकी भी मौत हो गयी.

palamu_12

घटना के बाद जांच में जुटी थी पुलिस

घटना के जानकारी के बाद एसपी ने मृतक के घर जाकर पूरा जायजा लिया और अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए एक टीम का गठन डीएसपी सुरजीत कुमार एवं डीएसपी प्रेमनाथ के नेतृत्व में किया. इनके साथ पुलिस निरीक्षक सदर राजीव रंजन शाही, पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी चैनपुर, अ.नि. सदर ममता कुमारी, अ.नि. महिला थाना दुल्लर चैड़े, अ.नि. चैनपुर शंभु प्रसाद शर्मा, परि.अ.नि चैनपुर जयप्रकाश पासवान, स.अ.नि. चैनपुर राजीव कुमार सिंह, स.अ.नि. चैनपुर मनोज कुमार एवं स.अ.नि. चैनपुर रामप्रवेश यादव टीम में शामिल थे.

छापेमारी अभियान चलाकर आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

छापेमारी अभियान दल ने त्वरित कार्रवाई करते हुए गढ़वा के नगर उंटारी थानांतर्गत हेनही निवासी राहुल कुमार और गढ़वा के दिपुवा मोहल्ला निवासी ललित पासवान को गिरफ्तार कर लिया. इधर पुलिस के एक ग्रुप ने ड्राईवर राजेश को भई डालटनगंज से गिरफ्तार किया. राजेश भी मूलतः गढ़वा के कल्याणपुर का निवासी है.

थाने में मामला दर्ज

गिरफ्तार राहुल कुमार के पास से एक देशी लोडेड पिस्तौल, तीन जिंदा 312 बोर की गोली के अलावा एक पल्सर बाइक  (काला-लालरंग) नंबर जेएच-1-4बी-8510 कए वीवो कंपनी का मोबाईल बरामद किया. वहीं ड्राईवर राजेश के पास से सैमसंग कंपनी का मोबाईल फोन बरामद किया. बरामद सभी मोबाईल फोन को खंगाला जा रहा है. घटनास्थल से दो खोखा और ब्लड सैंपल भी कब्जे मे लिए गए हैं. इस संबंध में चैनपुर थाना कांड संख्या 173/18 दिं.-29.08.2018 धारा 302/120 बी भा.दं. वि. एवं 27 आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ है. एसपी ने खुलासा किया कि दोनों प्रेमी प्रेमिका व्यस्क थे और प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतका शिल्पी के दादा चाहते थे कि उन दोनों की शादी करा दी जाए.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: