न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सऊदी अरब के साथ हथियार समझौता रद्द करने के मूड में नहीं हैं डोनाल्ड ट्रंप

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रविवार को कहा कि वह सऊदी अरब के साथ 110 अरब डॉलर के बड़े हथियार सौदे को रद्द करने के खिलाफ हैं क्योंकि इससे देश की अर्थव्यवस्था और नौकरियों पर असर पड़ेगा

94

 Washington :  अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रविवार को कहा कि वह सऊदी अरब के साथ 110 अरब डॉलर के बड़े हथियार सौदे को रद्द करने के खिलाफ हैं क्योंकि इससे देश की अर्थव्यवस्था और नौकरियों पर असर पड़ेगा. पत्रकार जमाल खाशोगी के अचानक लापता हो जाने के बाद मीडिया और अमेरिकी कांग्रेस की तरफ से सऊदी अरब के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए जबर्दस्त दबाव के बीच ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा कि वह इस मसले की तह में जाने का प्रयास कर रहे हैं और सऊदी अरब से इस बारे में ब्योरा मांगा है. वॉशिंगटन पोस्ट के लिए लिखने वाले खाशोगी की इंस्ताबुल में सऊदी वाणिज्य दूतावास के भीतर सऊदी अधिकारियों द्वारा हत्या कर दिये जाने की आशंका है.  खाशोगी को अंतिम बार वहां प्रवेश करते हुए देखा गया था.  तुर्की के अधिकारियों ने दावा किया कि उनके पास ऑडियो और वीडियो है जिससे संकेत मिलता है कि वाणिज्य दूतावास में खाशोगी की जघन्य हत्या कर दी गयी.

इसे भी पढ़ेंः  असम : आर्मी कोर्ट ने फेक एनकाउंटर में पूर्व मेजर जनरल सहित सात को उम्रकैद की सजा सुनाई

सऊदी अरब ने अब तक आरोपों का खंडन किया है

सऊदी अरब ने अब तक आरोपों का खंडन किया है.  हालांकि, इस मुद्दे को लेकर उसे दुनिया भर में आक्रोश का सामना करना पड़ रहा है. ट्रंप ने कहा कि उनकी इस मुद्दे पर सऊदी शाह से बात करने की योजना है. कहा कि मैं सऊदी अरब के शाह सलमान को भी फोन करूंगा क्योंकि मुझे लगता है कि क्या चल रहा है इस बारे में मेरा उनसे पूछना उचित रहेगा. हालांकि, उन्होंने कहा कि वह इसकी वजह से सऊदी अरब के साथ 110 अरब डॉलर का बड़ा हथियार सौदा रद्द करने के खिलाफ हैं. उन्होंने जोर देकर कहा कि इस कदम से अमेरिका में नौकरियों पर असर पड़ेगा. इसके अलावा, अगर अमेरिका पीछे हटता है तो रूस और चीन उसे जरूरी हथियारों की आपूर्ति करने के लिए तैयार है. ट्रंप ने कहा कि इस संबंध में उन्होंने कोई अंतिम निर्णय नहीं किया है.

इसे भी पढ़ेंः राज्य में आईएएस अफसरों का टोटा, पहले से 43 कम, 2019 तक रिटायर हो जायेंगे 27 और अफसर

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: