न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

गरीबों के इलाज में न हो कोताही : रामचंद्र चंद्रवंशी

स्वास्थ्य मंत्री ने गिरिडीह में मातृ एवं शिशु इकाई का किया उद्घाटन

200

Giridih: झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी ने गुरुवार को गिरिडीह सदर अस्पताल की मातृ एवं शिशु इकाई भवन और आधुनिक एसएनसीओ वार्ड का उद्घाटन किया. उद्घाटन कार्यक्रम में विधायक निर्भय शाहाबादी, उपायुक्त नेहा अरोड़ा, डीडीसी मुकुंद दास, सिविल सर्जन रामरेखा प्रसाद, जिप उपाध्यक्ष कामेश्वर पासवान, डॉ बीएन झा, डॉ अपेक्षा पाठक समेत कई चिकित्सक और स्वास्थ्यकर्मी मौजूद थे.

mi banner add

इसे भी पढ़ें: मोमेंटम झारखंड में दिलचस्पी दिखलानेवाले स्थानीय उद्यमियों को अब तक नहीं मिली बुनियादी सुविधाएं

इलाज में कोताही न करें चिकित्सक

इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी ने कहा कि सरकार के प्रयास से गिरिडीह में आधुनिक और बेहतरीन चाइल्ड केयर यूनिट खुला है. यह गिरिडीह के लोगों के लिए उपलब्धि है. उन्होंने चिकित्सकों और स्वास्थ्यकर्मियों को हिदायत देते हुए कहा कि गरीब लोगों के इलाज में किसी भी तरह की कोताही नहीं होनी चाहिए. सरकार डॉक्टरों और सहिया समेत सभी स्वास्थ्यकर्मियों की मांगों पर उन्हें लगातार सुविधाएं दी रही हैं. स्वास्थ्य मंत्री ने कार्यक्रम में उपस्थित सहियाओं से कहा कि उन्हें सहियाओं द्वारा प्रसूता और अन्य मरीजों से प्रोत्साहन राशि में अपना हिसा लेने की शिकायत मिलती रहती है. ऐसा गलत काम वे हरगिज न करें.

इसे भी पढ़ें: बिजली कंपनी में ताबड़तोड़ तबादला, चीफ इंजीनियर सहित 33 इंजीनियर इधर से उधर

आयुष्मान भारत योजना को सफल करें

Related Posts

सड़क लूट को अंजाम देने जमुई से पहुंचे छह अपराधियों को गिरिडीह पुलिस ने दबोचा

वाहन चेकिंग के दौरान पुलिस ने पकड़ा, दो लोडेड पिस्तौल और तीन मोबाइल फोन बरामद

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सरकार ने गरीबों के लाभ के लिए आयुष्मान भारत बीमा योजना शुरू की है. सभी को इसका प्रचार प्रसार करना चाहिए. इसमें सभी सहियाओं को घर-घर जाकर इस योजना का प्रचार करना है. मंत्री ने कहा कि कुछ राशि लेकर एपीएल परिवारों को भी इस योजना का लाभ दिया जाएगा.

इसे भी पढ़ें: बोकारो: कैसे बढ़े किसानों की दोगुनी आय, जब सिंचाई व्यवस्था ही हो जाये फेल

शीघ्र होगी चिकित्सकों और स्वास्थ्यकर्मियों की नियुक्ति

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के अस्पतालों में चिकित्सकों और टेक्नीशियनों के साथ जरूरी संसाधनों की भी भारी कमी है. इसके लिए एक प्रस्ताव बनाकर कैबिनेट के पास भेज दिया गया है. शीघ्र ही चिकित्साकर्मियों की बहाली की जाएगी. कार्यक्रम को विधायक निर्भय कुमार शाहाबादी और उपायुक्त डॉ नेहा अरोड़ा ने भी संबोधित किया.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: