National

DMK का चुनावी दाव, सत्ता में आए तो नोटबंदी पीड़ितों को देंगे मुआवजा

Chennai : द्रमुक ने लोकसभा चुनाव के लिए तैयार अपने घोषणापत्र बहुत से वादे किए हैं.  में नोटबंदी ‘पीड़ितों’ के परिवार को मुआवजा देने की बात कही है. लोकलुभावन घोषणाओं के जरिए पार्टी ने एक तरह से वोटरों को भी साधने की कोशिश की है. गौरतलब है कि द्रमुक तमिलनाडु की सियासत में लंबे वक्त तक राज करने वाली राज्य की प्रमुख विपक्षी पार्टी है.

इसे भी पढ़ें- रेलवे, फोर लेन सड़क व ट्रांसमिशन लाइन के लिए वन विभाग ने 248.44 एकड़ जमीन का किया हस्तांतरण

नीट परीक्षा खत्म करने का वादा

द्रमुक ने राष्ट्रीय पात्रता व प्रवेश परीक्षा (नीट) को खत्म करने और निजी क्षेत्र में आरक्षण देने का मंगलवार को वादा किया. नीट चिकित्सा स्नातक पाठ्यक्रम में प्रवेश संबंधी अखिल भारतीय प्रवेश परीक्षा है. द्रमुक प्रमुख एम के स्टालिन ने अपने घोषणापत्र की मुख्य विशेषताओं को उद्धृत करते हुए कहा है कि मेडिकल में प्रवेश के लिए नीट को खत्म कर दिया जाएगा. तमिलनाडु में विगत में बड़े राजनीतिक दलों और छात्रों के लिए नीट एक बड़ा मुद्दा रहा है.

इसे भी पढ़ें- योगी सरकार के दो सालः पटरी पर लौटी कानून-व्यवस्था, 73 अपराधी ढेर- सीएम

और क्या है घोषणापत्र में

  • पार्टी ने कहा है कि निजी क्षेत्र में आरक्षण देने के लिए कदम उठाए जाएंगे. पार्टी ने छात्रों के सभी शैक्षिक कर्ज माफ करने का भी वादा किया.
  • द्रमुक प्रमुख ने कहा कि हम केंद्र और राज्य सरकार दोनों के कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना लाएंगे.
  • स्टालिन ने कहा कि पार्टी पेट्रोल, डीजल और एलपीजी के दामों के नियमन पर ध्यान देगी.
  • घोषणापत्र में यह भी कहा गया है कि एलपीजी के लिए सीधे खातों में जाने वाली सब्सिडी की व्यवस्था को खत्म कर गैस सिलेंडरों के दाम कम किए जाएंगे.
  • अन्नाद्रमुक ने अपने घोषणापत्र में अम्मा राष्ट्रीय गरीबी उन्मूलन पहल के तहत ‘‘जरूरतमंद परिवारों’’ को 1,500 रुपये प्रति माह देने का वायदा किया

इसे भी पढ़ें- रेलवे, फोर लेन सड़क व ट्रांसमिशन लाइन के लिए वन विभाग ने 248.44 एकड़ जमीन का किया हस्तांतरण

उल्लेखनीय है कि राज्य में द्रमुक 20 सीटों पर चुनाव लड़ रही है और शेष 19 पर इसके सहयोगी दल लड़ेंगे. तमिलनाडु में 18 अप्रैल को एक ही चरण में चुनाव होगा.

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: