JharkhandLead NewsRanchi

उपायुक्त की अध्यक्षता में जिला स्तरीय खनन टास्क फोर्स की बैठक, ईंट भट्ठा, क्रशर, बालू उठाव, पत्थर खदान और लीज खनन क्षेत्र की होगी जांच

Ranchi : रांची जिला में अवैध खनन के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी. साथ ही जिले में ईंट भट्ठा, क्रशर, बालू उठाव, पत्थर खदान एवं लीज खनन क्षेत्र की जांच की जायेगी. जिला स्तरीय खनन टास्क फोर्स की बैठक में उपायुक्त छवि रंजन ने ये निर्देश दिया.

समाहरणालय ब्लॉक ए स्थित उपायुक्त सभागार में आयोजित जिला स्तरीय खनन टास्क फोर्स बैठक में आरक्षी अधीक्षक ग्रामीण, वन प्रमंडल पदधिकारी रांची, अपर समाहर्ता रांची, अनुमंडल पदाधिकारी रांची सदर, जिला खनन पदाधिकारी, क्षेत्रीय पदाधिकारी, झारखंड राज्य प्रदूषण पर्षद रांची, संबंधित अंचल अधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी उपस्थित थे.

 

अवैध खनन के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें : उपायुक्त

 

ram janam hospital
Catalyst IAS

बैठक में उपायुक्त छवि रंजन ने जिले में अवैध खनन के रोकथाम को लेकर पिछले 6 महीने में की गयी कार्रवाई की समीक्षा की. जिला खनन पदाधिकारी से उपायुक्त ने की गयी कार्रवाई का ब्यौरा लिया. सभी अधिकारियों को अवैध खनन सहित ईंट भट्ठों के आसपास प्रदूषण इत्यादि की जांच के सख्त निर्देश दिये. उपायुक्त ने कहा कि अवैध खनन के खिलाफ पूरी सख्ती बरतें.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

बैठक के दौरान उपायुक्त छवि रंजन ने ओरमांझी और नगड़ी प्रखंड में मिट्टी, मोरम और पत्थर के अवैध खनन की भी समीक्षा की. अवैध खनन को रोकने के लिए उन्होंने अंचलाधिकारी को संबंधित थाना प्रभारी साथ समन्वय स्थापित कर संयुक्त छापेमारी करने का निदेश दिया. उन्होंने कहा कि मजिस्ट्रेट और सीओ की उपस्थिति में कार्रवाई करें.

 

इसे भी पढ़ें :  जो यूपी तय करता है देश का राजनीतिक भविष्य, वहां मोदी और योगी में से किस पर दाव खेलेगी बीजेपी

एनजीटी के आदेश का सख्ती से हो अनुपालन : –

उपायुक्त छवि रंजन ने बैठक के दौरान कहा कि एनजीटी के आदेशानुसार मानसून की शुरुआत के साथ ही जिला में बालू का उठाव नहीं होगा. उन्होंने सभी अंचलाधिकारियों और थाना प्रभारियों को 10 जून से 15 अक्टूबर तक अलर्ट रहने का निर्देश दिया है.

उपायुक्त ने कहा कि जहां भी अवैध खनन हो रहा है वहां औचक निरीक्षण करें, खास कर बुण्डू क्षेत्र में. उपायुक्त ने माननीय एनजीटी के आदेश का सख्ती से पालन सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया.

 

ईंट भट्ठा, क्रशर, बालू उठाव, पत्थर खदान एवं लीज खनन क्षेत्र की होगी जांच

 

बैठक के दौरान छवि रंजन ने जिले में ईंट भट्ठा, क्रशर, बालू उठाव, पत्थर खदान एवं लीज खनन क्षेत्र की जांच करने का निर्देश दिया है. उपायुक्त ने जिला खनन पदाधिकारी को उन्होंने प्रदूषण पर्षद, बिजली, परिवहन और सेल्स टैक्स डिपार्टमेंट से आवश्यक सूचना लेकर विभिन्न बिंदुओं पर फॉर्मेट तैयार कर जांच करने को कहा है.

 

इसे भी पढ़ें : हजारीबाग का अग्निशमन विभाग आज खुद है बीमार, दो गाड़ियों के भरोसे चल रहा कामकाज

Related Articles

Back to top button