Lead NewsNationalNEWS

असम-मिजोरम में गहराया विवाद, असम ने अपने नागरिकों को मिजोरम जाने से रोका

New Delhi: असम व मिजोरम के बीच खूनी झड़प के बाद स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है. दोनों राज्यों की ओर से तल्खबयानी जारी है. इस बीच असम ने अपने नागरिकों की मिजोरम नहीं जाने की सलाह दी है. मालूम हो कि इस सप्ताह की शुरुआत में दोनों राज्यों के बीच खूनी झड़प हुई थी. जिसमें असम के सात पुलिस जवान मारे गये थे. मामले की गंभीरता को देखते हुए केंद्रीय गृहमंत्रालय को हस्तक्षेप करना पड़ा था.

इसे भी पढ़ेंःJharkhand की बेटी दीपिका ने Olympic पदक की ओर एक और कदम बढ़ाया, क्वार्टर फाइनल में पहुंची

केंद्र की ओर से लैलापुर में अंतरराज्यीय सीमा पर केंद्रीय बलों को तैनात कर दिया गया है. वहीं राज्यों के पुलिस के जवानों को अपनी-अपनी सीमाओं के 100 मीटर अंदर रहने को कहा गया है. इधर, वहीं मिजोरम ने केंद्र से असम द्वारा लगाई गई आर्थिक नाकेबंदी हटाने की मांग करते हुए कहा कि वह सीमा विवाद को लेकर मुकदमा लड़ने को तैयार है.

advt

इसे भी पढ़ेंःTokyo Olympics में भारत का एक और मेडल पक्का, सेमीफाइनल में पहुंची बॉक्सर लवलीना

गुरुवार को असम के गृह सचिव एमएस मनिवनन्न ने एक एडवाइजरी जारी कर अपने प्रदेश के लोगों से फिलहाल मिजोरम की यात्रा न करने की सलाह दी है. एडवाइजरी में हाल की ¨हिंसक घटनाओं का हवाला देते हुए कहा गया कि नौकरी, कामकाज या किसी अन्य सिलसिले में लोग फिलहाल मिजोरम जाने से परहेज करें. कहा है कि वहां की यात्रा सुरक्षा की दृष्टि से सही नहीं है. संभवत: देश में यह पहला मौका है जब किसी राज्य ने अपने नागरिकों को किसी अन्य राज्य में जाने से रोकने के लिए इस तरह की एडवाइजरी जारी की.

 

इस बीच, कछार के जिला अधिकारी ने कहा कि लोगों को सीमा की ओर जाने की अनुमति नहीं है, इस पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है क्योंकि यह वर्तमान में संघर्ष क्षेत्र है. उन्होंने कहा कि हिंसा भड़कने के बाद से कुछ स्थानों पर कुछ संगठनों द्वारा लगाई गई आíथक नाकेबंदी का प्रभाव आंशिक रहा है. बराक घाटी के तीन जिलों में रहने वाले छात्रों और मिजो लोगों के लिए भी सुरक्षा कड़ी कर दी गई है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: