DhanbadJharkhand

एमपीएल गेट को जाम कर धरने पर बैठे विस्थापित

Dhanabad: 8 सूत्री मांगों को लेकर एमपीएल विस्थापित एवं स्थानीय समिति (अरूप चटर्जी गुट) और एमपीएल कामगार यूनियन समर्थक एमपीएल के मुख्य द्वार जाम कर अनिश्चितकालीन धरना पर बैठ गये.

विस्थापितों एवं मजदूरों का कहना है कि आठ सूत्री मांगों को लेकर लगातार एमपीएल प्रबंधन को मांगपत्र दिया जा रहा है. परंतु प्रबंधन द्वारा कोई सार्थक प्रयास नहीं किया जा रहा. 23 जून 2019 को उपायुक्त के समक्ष हुई बैठक में एमपीएल प्रबंधन ने आश्वासन दिया था कि 7 विस्थापित महिलाओं या उनके आश्रित को अविलंब नियोजन दिया जाएगा. परंतु अभी तक मात्र 4 महिलाओं को ही नियोजन दिया गया है. शेष बचे सभी विस्थापितों को अविलंब नियोजन दिया जाये.

एमपीएल एवं आसपास के बेरोजगार युवकों को छाई ढुलाई में कार्यरत ठेकेदारों के अधीन काम दिलवाया जाये. एमपीएल के अधीनस्थ विभिन्न कंपनियों में विस्थापित मजदूरों को विस्थापित भत्ता अविलंब दिया जाये. विस्थापितों के आश्रितों को नियोजन दिया जाये.

advt

एम कुमार एंड कंपनी के अधीनस्थ आइटीआइ प्रशिक्षित विस्थापित मजदूरों को BSBK के अधीन कार्य करने के लिए अधिकृत किया जाये. श्रम अधिनियम के अनुसार मजदूरों को अकुशल से अर्ध कुशल, अर्ध कुशल से कुशल में प्रोन्नति दी जाये. वहीं पूर्व बिधायक अरूप चटर्जी ने कहा कि प्रबंधन को 2019 से लगातार मांग पत्र एवं पत्राचार किया जा रहा है. परंतु इस दिशा में कोई कदम नहीं उठा रहा है. मजबूरन हम लोगों को आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ा.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: