Lead NewsNationalWest Bengal

मंत्री पद से हटाये गये बाबुल सुप्रियो के दर्द को बेदर्दी से कुचला दिलीप घोष ने, जानें क्या कहा

Kolkata : पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने गुरुवार को पार्टी नेता बाबुल सुप्रियो पर पलटवार किया. दरअसल, हाल ही में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने इस्तीफा दिया है. एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, घोष ने बिना किसी का नाम लिए कहा कि बुधवार को इस्तीफा देने वाले 12 मंत्रियों में से सिर्फ उन्होंने (सुप्रियो) ने ऐसी टिप्पणी की थी जो भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेतृत्व के फैसले से उनकी नाराजगी का इशारा है.

इसे भी पढ़ें :सीएम हेमंत सोरेन के हस्तक्षेप के बाद दिल्ली में ‘बंधक’ झारखंड के 26 बच्चों को मिली आजादी

क्या लिखा था बाबुल सुप्रियो ने

गौरतलब है कि बाबुल सुप्रियो ने बुधवार को अपने आधिकारिक फेसबुक अकाउंट से एक पोस्ट में कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बहुप्रतीक्षित मंत्रिमंडल फेरबदल से पहले उन्हें केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन राज्य मंत्री के पद से “इस्तीफा देने के लिए कहा गया”.सुप्रियो ने अपने पोस्ट में लिखा, ‘हां, जब धुआं होता है तो कहीं आग तो जरूर होती है.’

advt

इसे भी पढ़ें :रांची नगर निगम परिषद की वर्चुअल बैठक में डिप्टी मेयर को कर दिया गया ब्लॉक

धुआं होता है तो कहीं आग जरूर लगती है

बाबुल सुप्रियो ने पोस्ट में लिखा, ‘हां, जब धुआं होता है तो कहीं आग जरूर लगती है मीडिया में मेरे दोस्तों के फोन कॉल नहीं ले पा रहा हूं जो मेरी परवाह करते हैं इसलिए मैं इसे खुद बताता हूं .. हां, मैंने मंत्रिपरिषद से इस्तीफा दे दिया है लेकिन इस्तीफा देने के लिए कहा गया. इसे इस तरह रखने का सही तरीका नहीं हो सकता है.

मैं माननीय प्रधानमंत्री जी को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने मुझे अपने मंत्रिपरिषद के सदस्य के रूप में अपने देश की सेवा करने का मौका दिया.’

इसी तरह एक पार्टी काम करती है

अपने पहले के बयान में, दिलीप घोष ने कहा, ” उनका (सुप्रियो का) इस्तीफा मांगा गया ताकि कोई और जिम्मेदारी ले सके. इसी तरह एक पार्टी काम करती है; आपको नियत प्रक्रिया में विश्वास रखने की आवश्यकता है. अगर उन्हें निकाल दिया जाता तो क्या इससे चीजें बेहतर होतीं?”
इसे भी पढ़ें :भाजपा कार्यकर्ता जीतू गुप्ता हत्याकांडः अमन श्रीवास्तव गैंग ने कहा- चार और हैं निशाने पर

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: