न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दिग्विजय सिंह का दावा , नोटबंदी से भाजपा ने अकूत धन कमाया, उसी से विधायक खरीदे जा रहे हैं

नोटबंदी के दौरान भाजपा ने अकूत धन जमा  किया और अब उसी का इस्तेमाल कर पार्टी विधायकों को खरीद रही है.

44

NewDelhi : नोटबंदी के दौरान भाजपा ने अकूत धन जमा  किया और अब उसी का इस्तेमाल कर पार्टी विधायकों को खरीद रही है.  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने यह दावा किया है. कर्नाटक में विधायकों के इस्तीफे से पैदा हुए राजनीतिक संकट और गोवा के दस कांग्रेस विधायकों के भाजपा में शामिल होने की घटना के बाद दिग्विजय सिंह का यह बयान आया है. कहा कि विधायकों को ऐसे खरीदा जा रहा है जैसे बाजार से सामान खरीदा जाता है. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा, भाजपा ने नोटबंदी के दौरान अकूत पैसा अर्जित किया और अब वह विधायकों की खरीद में शामिल है. स्थिति यह है कि विधायकों को ऐसे खरीदा जा रहा है जैसे बाजार से सामान खरीदा जाता है . मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं.

इसे भी पढ़ेंः लोकसभा अध्यक्ष ने संसद परिसर में स्वच्छता अभियान चलाया, सांसदों ने झाड़ू लगायी

 मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार पूरी तरह सुरक्षित

 हालांकि इस क्रम में उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार पूरी तरह सुरक्षित है . उन्होंने दावा किया कि मुख्यमंत्री कमलनाथ के पास 121 विधायकों का समर्थन है . सिंह ने केंद्र की आर्थिक नीतियों की आलोचना की और उन्होंने आरोप लगाया कि 2024 तक भारत को पांच खरब डालर वाली अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य एक सपना है जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिखा रहे हैं. नेता ने कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में हमें सपना दिखाया था कि दो करोड़ लोगों को रोजगार देंगे, विदेशों से काला धन वापस लायेंगे और लोगों के खातों में 15 लाख रुपये जमा करायेंगे.  लेकिन सभी वादे जुमला साबित हुए.  अब उन्होंने भारत को 2024 तक पांच खबर डालर की अर्थव्यवस्था बनाने का एक नया सपना दिखाया है.

दिग्विजय सिंह ने कहा, इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए दो अंकों की निरंतर विकास दर चाहिए दुर्भाग्य से ऐसी कोई संभावना दिख नहीं रही है . सिंह ने दावा किया कि इसके उलट औद्योगिक एवं निर्माण क्षेत्र लगातार पिछड़ रहे हैं.कांग्रेस नेता ने कहा, ‘ऐसी स्थिति में पांच खरब डालर की अर्थव्यवस्था बनाना संभव नहीं है. जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के काफिले पर हुए हमले के बारे में कहा कि इस संबंध में आठ फरवरी को खुफिया जानकारी मिली थी, लेकिन इसके बावजूद सावधानी नहीं बरती गयी

इसे भी पढ़ेंः कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने मॉब लिंचिंग को लेकर कहा,  छोटे शहरों और गांवों में डर का माहौल

hotlips top

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like